JharkhandRanchi

मुख्य सचिव ने सचिवों से कहा: अपने-अपने विभागों में देखें कहीं फाइलें जलायी तो नहीं जा रहीं 

Ranchi: सरयू राय की शिकायत के बाद विभागीय अधिकारी हरकत में हैं. काफी मुस्तैदी से सीआइडी हेडक्वार्टर की जांच डीजी रैंक के अधिकारी ने की. यहां तक कि सीआइडी के एडीजी अनुराग गुप्ता के कार्यालय की जांच भी डीजी रैंक के अधिकारी पीआरके नायडू ने की. हालांकि जांच में अभी तक ऐसा कुछ गलत सामने नहीं आया है.

सरयू राय ने सीएस को चिट्ठी लिख कर कहा था कि सीआइडी, स्पेशल ब्रांच, पथ निर्माण, भवन निर्माण और ऊर्जा विभाग में महत्वपूर्ण सबूतों को नष्ट किया जा रहा है. उन्हें एक नहीं कई लोगों ने इस बात की जानकारी दी है.

इसी शिकायत पर सीएस ने कदम उठाते हुए सभी विभाग के सचिवों के अपने विभाग में जांच करने को कहा. लेकिन मुख्य सचिव के इस कदम के बाद कुछ सवाल भी उठने लगे हैं. कहा जा रहा है कि जैसे सीआइडी विभाग की जांच उच्च अधिकारी से करायी गयी वैसे ही पथ निर्माण, भवन निर्माण और ऊर्जा विभाग की जांच विभाग के सचिवों से ही क्यों करायी जा रही है.

Catalyst IAS
ram janam hospital

इसे भी पढ़ें – सरयू राय की मुख्य सचिव को चिट्ठी, कहा- विभाग मिटा रहा है सबूत और सूचनाएं, तत्काल लगाये रोक

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

बीजेपी ने कहा- सरयू के आरोपों की हो जांच

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि पूर्व मंत्री सरयू राय के आरोपों की उच्चस्तरीय जांच होनी चाहिए. श्री राय ने आरोप लगा कर कहा था कि सीआइडी, स्पेशल ब्रांच, भवन निर्माण विभाग, ऊर्जा विभाग जैसे अनेक विभागों में फाइलों को नष्ट करने का कार्य चल रहा है.

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि यह बहुत ही गंभीर आरोप है और मुख्य सचिव को इसकी उच्च स्तरीय जांच अविलम्ब करनी चाहिए. अगर जांच में कोई भी अधिकारी दोषी पाया जाये तो उस पर तत्काल प्रभाव से एफआइआर दर्ज करके कानून सम्मत कार्रवाई करनी चाहिए. लेकिन अगर आरोप निराधार निकलता है तो इस विषय पर भी मुख्य सचिव को उचित कार्रवाई करनी चाहिए.

प्रतुल शाहदेव ने कहा कि पिछले कुछ समय से कुछ वरिष्ठ राजनीतिज्ञों की तरफ से आरोप लगाया जा रहा है जिसकी जांच के बावजूद पुष्टि नहीं हो पा रही थी. इसलिए इस पूरे मामले को गंभीरता से जांच करके जांच रिपोर्ट को सार्वजनिक भी करने की आवश्यकता है.

इसे भी पढ़ें – सरयू की शिकायत पर डीजी रैंक के अधिकारी ने की सीआइडी ऑफिस की जांच

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button