न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें
bharat_electronics

मुख्यमंत्री सीधी बात कार्यक्रम में पाकुड़ डीसी पर आरोप, करा रहे हैं अवैध उत्खनन, विस्थापितों को मैनेज करने के नाम पर लिये चार करोड़

कोल कंपनी से की बड़ी डील, करा रहे हैं बिजली की चोरी, लूट-खसोट पर उतारू हो गये हैं डीसी, खराब हो रही है सरकार की छवि

5,554

Ranchi: मुख्यमंत्री के सीधी बात कार्यक्रम में पाकुड़ डीसी दिलीप कुमार झा पर एक शिकायतकर्ता ने गंभीर आरोप लगाया. सीएम से कहा कि पाकुरिया प्रखंड में वृहत पैमाने अवैध उत्खनन हो रहा है. दुमका के मुख्य सरगना श्याम कुमार नारनोली द्वारा खागाचुओं में लगभग 150-20 स्थानों पर अवैध उत्खनन किया जा रहा है. शिकायकतकर्ता ने बताया कि पाकुड़ जिला के सहायक खनन पदाधिकारी सुरेश शर्मा एवं डीसी दिलीप कुमार झा की मिलीभगत से इस काम को अंजाम देने में सफल हो रहे हैं. डीसी द्वारा कोयला के स्थानीय ट्रांसपोर्टर का विरोध किया जा रहा है. साथ ही अली अकबर के द्वारा कोलकाता के होटल मालिक सोनार बंगला से सांठ-गांठ कर 400 हाइवा आमड़ापाड़ा में कोल कंपनी में चलाने के लिए दिलीप झा ने मोटी रकम की डील कर ली है. बीजीआर से विस्थापितों को मैनेज करने के नाम पर डीसी ने चार करोड़ रुपये लिए हैं.

eidbanner

इसे भी पढ़ें: पुलिस की साजिश का शिकार हुए दो युवक, लाइनहाजिर किये गये तीन थानेदार, डीएसपी पर कार्रवाई बाकी

टॉस्क फोर्स द्वारा छापेमारी भी की गई

शिकायतकर्ता ने सीएम को बताया कि अवैध उत्खनन की जानकारी स्थानीय लोगों को होने पर जिला टास्क फोर्स द्वारा छापामारी की गई. यहां वृहद पैमाने पर हाईवा, ट्रक, पोकलेन जेसीबी को जब्त किया गया. इस संबंध में सहायक खनन पदाधिकारी द्वारा पाकुड़ थाना में अज्ञात के खिलाफ एफआईआर भी किया गया.  शिकायतकर्ता ने यह भी बताया कि पिछले एक साल से डीसी लूट-खसोट पर उतारू हो गये हैं. इससे सरकार की बदनामी हो रही है. भाजपा विधायक के साथ झामुमो विधायक साइमन मरांडी सहित कोयला ट्रांसपोर्टर इसका विरोध कर हैं. साइमन मरांडी ने इस संबंध में प्रधानमंत्री को लिखा. एसपी पाकुड़ ने भी अवैध उत्खनन की जांच की. लेकिन, डीसी साहब के रौब के कारण उन्होंने ने भी चुप्पी साध ली. बिजली चोरी भी करा रहे हैं.

इसे भी पढ़ें: प्रधानमंत्री के दावे को गलत साबित कर रहा है सरकार का ही आंकड़ा 

पाकुड़ के अनुमंडल पदाधिकारी ने जारी किया पत्र

पाकुड़ के अनुमंडल पदाधिकारी ने पत्र जारी कर कहा है कि राज्य सरकार की अति महत्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत मिशन है. जिसके तहत पाकुड़ में दो अक्टूबर तक शत-प्रतिशत ओडीएफ किये जाने का लक्ष्य निर्धारित है. यह लक्ष्य हासिल करने के लिए समयबद्ध तरीके से युद्धस्तर पर पर निर्माण कार्य कराया जा रहा है. लेकिन, सूचना मिली है कि सरकार की उक्त महत्वाकांक्षी योजना के लिए परिवहन किये जा रहे बालू को संबंधित थाना प्रभारियों द्वारा पकड़े जाने के कारण निर्माण कार्य बाधित हो रहा है. डीसी पाकुड़ द्वारा बालू के उठाव एवं परिवहन में आ रही कठिनाईयों के निराकरकण के लिए निर्देशित किया गया है.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

dav_add
You might also like
addionm
%d bloggers like this: