JharkhandRanchi

सफाईकर्मियों के लिए CM की बड़ी घोषणा, मिलेगा 15 कार्यक्रमों का लाभ

Ranchi : मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि स्वच्छ झारखंड अभियान में सफाईकर्मियों का महत्वपूर्ण योगदान है. इन कर्मियों के योगदान की बदौलत ही हम स्वच्छ भारत के सपने को पूरा कर सकेंगे. इसके लिए जरूरी है कि इन कर्मियों के लिए कल्याणकारी उपायों पर सरकार ध्यान दे, ताकि इनके प्रयासों से वर्ष 2019 तक रांची को देश का नंबर वन स्वच्छ शहर बनाया जा सके. मुख्यमंत्री ने उक्त बातें मंगलवार को धुर्वा स्थित नेहरू स्टेडियम में आयोजित “स्वच्छता ही सेवा है” कार्यक्रम के दौरान सफाई मित्र सम्मेलन में कहीं.

Jharkhand Rai

इसे भी पढ़ें-राजधानी में जमीन पर कब्जा करने का चल रहा खेल, हो रही हैं हत्याएं

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार ने राज्य के इन कर्मियों के लिए कई कल्याणकारी कदम उठाने का फैसला किया है. इसमें इन कर्मियों को मजदूर कल्याण बोर्ड (झारखंड भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड) के तहत पंजीकृत करना, पंजीकृत होने के बाद इन निबंधित श्रमिकों को सरकार द्वारा चलायी जा रहे 15 कार्यक्रमों का लाभ देना प्रमुख है. कार्यक्रम में ही सीएम ने उपस्थित सभी वार्ड पार्षदों से अपने-अपने वार्डों में आम जनता को जोड़कर स्वच्छता मिशन को मूर्त रूप देने के लिए काम करने की अपील की.

इसे भी पढ़ें- फाइनेंशियल क्राइसेस से गुजर रहा झारखंड, खजाने में पैसे की किल्लत ! 300 अफसरों-कर्मचारियों का…

Samford

कर्मियों के आर्थिक न्याय के लिए कृतसंकल्प है सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि सफाई कर्मचारी सर्वाधिक गरीब और पिछड़े वर्ग के परिवार से होते हैं. इन सफाईकर्मियों को आर्थिक न्याय दिलाने के लिए हमारी सरकार कृतसंकल्प है. राज्य के सभी सफाईकर्मियों को अगले एक माह में अभियान चलाकर मजदूर कल्याण बोर्ड (झारखंड भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड) के तहत पंजीकृत किया जायेगा. इसके लिए प्रथम बार 10 रुपये तथा पंजीकृत होने पर प्रत्येक वर्ष 100 रुपये की राशि देय होगी. पंजीकृत होने के फलस्वरूप बोर्ड द्वारा निबंधित श्रमिकों के लिए सरकार द्वारा चलाये जा रहे 15 कार्यक्रमों का लाभ प्राप्त होगा. इन योजनाओं में से मुख्यतः श्रमिक औजार सहायता योजना, साइकिल सहायता योजना, समेकित आम आदमी बीमा योजना, झारखंड निर्माण कर्मकार मृत्यु/ दुर्घटना सहायता योजना, मेधावी पुत्र/पुत्री छात्रवृत्ति योजना, चिकित्सा प्रतिपूर्ति योजना, चिकित्सा सहायता योजना, मातृत्व सुविधा योजना, अंत्येष्टि सहायता योजना,  विवाह सहायता योजना, पेंशन योजना, दिव्यांग पेंशन, पारिवारिक पेंशन योजना, अनाथ पेंशन, निर्माण श्रमिक सेफ्टी किट योजना के तहत लाभ मिल सकेगा.

इसे भी पढ़ें- स्टूडेंट्स का आरोप- प्रैक्टिकल एग्जाम के नाम पर स्टूडेंट्स से पांच हजार तक वसूल रहे निजी बीएड कॉलेज

इन योजनाओं का लाभ मिलेगा सफाईकर्मियों को

सम्मेलन के दौरान मुख्यमंत्री ने इन कर्मियों के लिए निम्न योजनाओं की घोषणा की-

  • पंजीकृत सफाईकर्मियों के साइकिल खरीदने हेतु 3500 रुपये की सहायता राशि उनके बैंक खाते में डायरेक्ट कैश ट्रांसफर करना
  • ट्रेड के औजार किट खरीदने के लिए 2500 रुपये की सहायता राशि (18 वर्ष से अधिक आयु वाले सफाईकर्मियों को)
  • नगर निगम के सफाईकर्मियों के वेतन में वृद्धि करना. मालूम हो कि वर्तमान में अकुशल मजदूरों को 6612 रुपये प्रतिमाह मिलते हैं. सभी सफाईकर्मी, जो सफाई कर्मचारी आयोग या झारखंड कौशल विकास सोसायटी द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त करेंगे, उन कर्मियों को अर्द्धकुशल मजदूरी जो कि 7053 रुपये प्रतिमाह है, राशि देना
  • जिन सफाईकर्मियों के रहने हेतु अपने मकान नहीं हैं, उन्हें प्रधानमंत्री आवास योजना, जीवन ज्योति बीमा योजना तथा आयुष्मान भारत योजना का पूरा लाभ देना
  • सफाईकर्मियों के संगठन के प्रधान कार्यालय के लिए जयपाल सिंह स्टेडियम रांची स्थित वेंडर मार्केट में स्थान उपलब्ध कराना, प्रत्येक जिले में भी एक कार्यालय का गठन करना.
  • नगर निगम के सफाईकर्मियों एवं असंगठित मजदूरों के हित में मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना रांची, दुमका, पूर्वी सिंहभूम, धनबाद, बोकारो और पलामू जिलों में शुरू करना
  • मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा योजना के तहत सभी मजदूर वर्गों के लोगों को 10 रहपये में शुद्ध और पेटभर भोजन उपलब्ध कराना
  • मजदूर कल्याण बोर्ड में 200 करोड़ रुपये की राशि मजदूर के सर्वांगीण विकास हेतु खर्च किया जाना
  • सफाईकर्मियों एवं मजदूर वर्गों के बच्चों को भी बेहतर शिक्षा प्राप्त हो, इस हेतु छात्रवृत्ति योजना के तहत प्राथमिक से उच्च शिक्षा तक 5000 से 50000 रुपये वार्षिक तक छात्रवृत्ति का लाभ देना
  • आनेवाले स्वच्छता सर्वेक्षण में टॉप 3 शहरों में हमारे शहर आयेंगे, तो सफाईकर्मियों को 1 महीने का वेतन बोनस के तौर पर दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें- मैनहर्ट मामला: विजिलेंस ने मांगी 5 बार अनुमति, हाईकोर्ट का भी था निर्देश, FIR पर चुप रहीं राजबाला

निगम और कर्मी समन्वय बनाकर करें काम : सीपी सिंह

नगर विकास मंत्री सीपी सिंह ने कहा कि नगर निगम एवं सफाईकर्मी आपसी समन्वय बनाकर काम करें. स्वच्छ रांची के सपने को साकार करने हेतु अगर और सफाईकर्मी बढ़ाने की आवश्यकता हो, तो बढ़ायें. ट्रैक्टर एवं अन्य संसाधनों को भी बढ़ायें. इसके लिए पैसे सरकार देगी. निगम एक ऐसी व्यवस्था बनाये कि पूरे शहर में कहीं भी कूड़ा हो, तो उसे तुरंत साफ किया जा सके. उन्होंने कहा कि वर्तमान सीएम के नेतृत्व में पिछले 4 वर्षों में शहर में स्वच्छता के ग्राफ में सुधार आया है. स्वच्छता के ग्राफ को राष्ट्रीय स्तर पर टॉप वन में ले जाना है. देशभर के स्वच्छता सर्वेक्षण में रांची को अव्वल बनाना है. इस कार्य में सफाई मित्रों की महत्वपूर्ण भूमिका रहेगी.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: