न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

मारपीट करनेवाले अपने विधायक पर क्या कार्रवाई करेंगे मुख्यमंत्री रघुवर दासः जेएमएम

विधायक बिरंची मामले में जेएमएम का बीजेपी पर निशाना, कहा- सरकार लेती है रैयती जमीन, तो विधायक सरकारी

277

Ranchi : बोकारो इस्पात लिमिटेड के नगर सेवा विभाग के एजीएम (लैंड एलॉटमेंट डिपार्टमेंट) अजीत कुमार के साथ बीजेपी विधायक की मारपीट की घटना की जेएमएम ने निंदा की है. जेएमएम ने इसे भाजपा की गुंडागर्दी बताया है. पार्टी प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने बुधवार को पार्टी मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में कहा कि मध्य प्रदेश विधायक और बीजेपी नेता कैलाश विजयर्गीय के बेटे आकाश विजयवर्गीय पर पीएम मोदी ने कहा था कि ऐसे विधायक पार्टी को नहीं चाहिए. ऐसे में मुख्यमंत्री को यह साफ करना चाहिए अपने ऐसे विधायकों पर वह क्या कार्रवाई करेंगे और उनकी गिरफ्तारी वे कब करायेंगे.

इसे भी पढ़ें – हजारीबाग माइनिंग अफसर नितेश गुप्ता क्यों चाहते है कि सिर्फ मां अंबे कंपनी ही करे कोयला रैक लोडिंग

उन्होंने कहा कि बीजेपी विधायक बिरंची नारायण ने जिस तरह से खुले आम एजीएम के साथ मारपीट की, वह घटना पूरी तरह तरह से दुर्भाग्यपूर्ण है. एक तरफ राज्य सरकार रैयतों की जमीन हड़प रही है, तो वहीं उनके विधायक सरकारी जमीन. उक्त घटना साबित करती है कि बीजेपी विधायकों का कानून से डर खत्म हो गया है और उनका मन काफी बढ़ गया है. इससे पहले राज्य के मुखिया ने भी कई बार अशोभनीय भाषा का उपयोग अपने भाषण में किया है. वही भाषण बीजेपी के ऐसे विधायकों को ताकत दे रहा है कि वे कानून अपने हाथ में लेकर सरकारी जमीन पर कब्जा करें. पार्टी इसकी निंदा कर मांग करती है और बोकारो विधायक पर सख्त कानूनी कार्रवाई की जाये.

इसे भी पढ़ें – गडकरी जी, अच्छी सड़क के लिये तिहरा टैक्स तो ठीक पर आपके टोल वाले लूट रहे हैं पब्लिक को

पहले भी विधायक कर चुके हैं मारपीट

SMILE

जेएमएम नेता ने कहा कि इससे पहले 22 फरवरी 2018 को भी भाजपा के ईचागढ़ विधायक साधुचरण महतो ने भी जिले के भू-अर्जन पदाधिकारी को दौड़ा कर पीटा था. हालांकि बाद में उन्होंने पूरे मामले पर मुख्यमंत्री से समझौता कर राज्यसभा चुनाव में वोट डालने का काम किया. बीजेपी पर सरकारी जमीन हड़पने के चरित्र का आरोप लगाते हुए सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि एक तरफ रघुवर सरकार रैयतों की जमीन हथिया रही है, तो वहीं उनके विधायक सरकारी जमीन. बीजेपी विधायक आज जमीन पर कब्जा करने का काम रहे हैं.

वन अधिकार कानून से छेड़छाड़ को लेकर होगा धरना

सुप्रियो भट्टाचार्य ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव की तैयारी को लेकर पार्टी कोर कमिटी की बैठक 21 जुलाई को पार्टी सुप्रीमो शिबू सोरेन के आवास पर बुलायी गयी है. उसके अगले दिन यानी 22 जुलाई को पार्टी नेता व तमाम विधायक वन अधिकार कानून के साथ छेड़छाड़ को लेकर राजभवन के समक्ष धरने पर बैठेंगे. इस विषय पर वे राष्ट्रपति को ज्ञापन भी देंगे.

इसे भी पढ़ें – रांची नगर निगम के ड्रीम प्रोजेक्ट से डिस्टिलरी तालाब हुआ खत्म, करम नदी का अस्तित्व मिटा, बह रहा नाला

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like
%d bloggers like this: