JharkhandRanchi

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा- नक्सलियों को करारा जवाब मिलेगा, बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा

Ranchi: चाईबासा में जवानों पर हुए हमले से पूरा झारखंड गुस्से में है. गुरुवार को हुए इस हमले में 3  जवान शहीद हुए हैं, वहीं 2 जवान घायल हुए हैं. हमले के बाद झारखंड जगुआर के हेड क्वार्टर में शहीद जवानों को मुख्यमंत्री समेत आला अधिकारियों ने भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की,  वहीं झारखण्ड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि जवानों की बहादुरी पर हमें फख्र है, उनका बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा.

झारखण्ड के मुख्यमंत्री ने कहा की नक्सलियों ने जवानों पर घात लगा कर हमला किया है और घिनौना काम नक्सलियों ने किया है. मुख्यमंत्री ने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. नक्सली हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के बाद मुख्यमंत्री भावुक हो गए और शहीद जवानों के परिजनों से मिलकर उनका हौसला बढ़ाया.

मुख्यमंत्री ने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की जाएगी और इसके लिए बैठक कर एक ठोस रणनीति बनायी जायेगी.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि घात लगाकर नक्सलियों ने हमला किया है. इससे साफ है कि नक्सलियों में बौखलाहट है और उनमें एक भय का माहौल है. वे बौखलाहट में कायराना हरकत को अंजाम दे रहे हैं.

झारखंड में नक्सलियों की गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए झारखण्ड सरकार ने 19 फरवरी, 2008 को विशेष टास्क फोर्स के गठन को मंजूरी दी थी, जिसे बाद में झारखंड जगुआर का नाम दिया गया. इसके लिए अलग तरह की वर्दी भी डिजाइन की गई. राज्य में फिलहाल इस तरह के झारखंड जगुआर के 20 ग्रुप नक्सलियों के खिलाफ अभियान चला रहे हैं.

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि नक्सलियों के खिलाफ ऑपरेशन चलाए जा रहे थे. इस दौरान पुलिस बल पर घात लगाकर नक्सलियों ने एक घिनौना घटना को अंजाम दिया है. घटना में तीन जवान शहीद हुए हैं.

इस तरह की घटना को अंजाम देने के बाद नक्सलियों और उग्रवादियों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी. एक लंबे अंतराल के बाद बड़ी घटना को अंजाम दिया गया है,  इससे यह स्पष्ट है कि  वह सरकार की ओर से चलाए जा रहे विशेष ऑपरेशन के कारण नक्सलियों में भय है. अब सरकार पूरी तरीके से विशेष कार्य योजना के साथ इन पर काबू पाने के लिए रणनीति तैयार करेगी.

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: