JharkhandLead NewsRanchi

झूठ की यूनिवर्सिटी के कुलपति हैं मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन, सभी मंत्री हैं प्रोफेसर : दीपक प्रकाश

Ranchi : महागठबंधन सरकार के मुखिया हेमंत सोरेन सिर्फ और सिर्फ झूठ की खेती करते हैं. सरकार ने झूठ की यूनिवर्सिटी बना दी है और हेमंत सोरेन उस यूनिवर्सिटी के कुलपति हैं. उक्त बातें आज भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष सह राज्यसभा सांसद दीपक प्रकाश ने प्रदेश कार्यालय में प्रेस को सम्बोधित करते हुए कहीं.

उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले अपने निश्चय पत्र से लेकर सरकार के शपथ लेने तक सिर्फ और सिर झूठ की खेती की है. लोगों को सिर्फ अपने लुभावने वादों से दिग्भ्रमित किया है. महागठबंधन की सरकार धरातल पर एक भी घोषणा को उतारने में सफल नहीं हो पायी है. आज झामुमो के साथ मिलकर कांग्रेस भ्रष्टाचार और वंशवाद को बढ़ावा दे रही है.

श्री प्रकाश ने स्वतंत्रता दिवस के दिन राज्य के मुख्यमंत्री के की घोषणा ‘झारखंड के स्थानीय निवासियों को तीन महीने तक जिनकी तनख्वाह 40 हज़ार तक होगी उसको आरक्षण दिया जायेगा’ पर प्रहार करते हुए कहा कि इसमें राज्य के मुखिया भेदभाव की नीति अपना रहे हैं. जिन लोगों की तनख्वाह 40 हज़ार से ऊपर होगी जिसमें डॉक्टर, इंजीनियर, मैनेजमेंट के डिग्री धारियों को दूसरे राज्य भेजने की नीति पर काम कर रहे हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री ब्रेन ड्रेन को बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने सरकार पर सवालिया लहजे में कहा कि सत्ता में आने से पहले झामुमो ने कहा था कि हमारी सरकार आयेगी तो हम स्थानीय नीति को बनाने का काम करेंगे. आज राज्य के मुख्यमंत्री ये बतायें कि क्या आपने नयी स्थानीय नीति की घोषणा की है? या भाजपा सरकार द्वारा बनायी गयी स्थानीय नीति ही अच्छी थी जिस पर सरकार काम कर रही है.

Sanjeevani

श्री प्रकाश ने कहा कि सरकार बनने के बाद सरकार ने कई योजनाओं को लागू किया, उन योजनाओं  की क्या स्थिति है आज देखने लायक है. सरकार की दाल भात योजना जिसकी हालत आज क्या है. इस योजना में सिर्फ अनाज की हेराफेरी हुई है. एक दुकान में 400 लोगों को खिलाने का पैसा भुगतान किया जा रहा है लेकिन भोजन सिर्फ 40 लोगों को कराया जाता है. आज झारखंड सरकार लोगों की समस्याओं को भी सुलझाने में असफल रही है. लोगों की तरफ से 75 हज़ार आवेदन आये थे समस्या को हल करने के लिए लेकिन 5 लोगों की भी समस्या को हल नहीं की जा सकी. सरकार की सोना सोबरन योजना लुंगी, साड़ी, धोती देंगे उसमें भी भ्रष्टाचार की दुर्गंध आ रही है. 90 रु की साड़ी 190 में खरीदी गयी.

इसे भी पढ़ें – झारखंड के सत्ताधारी दलों की बैठक 20 अगस्त को, चर्चा का बाजार गर्म

उन्होंने पेट्रोल-डीजल की सब्सिडी दिये जाने पर कहा कि सरकार विज्ञापन के माध्यम से बड़ा प्रचार प्रसार किया लेकिन मेरे जो आंकड़े हैं उसके अनुसार अब तक सिर्फ 104 लोगों को ही लाभान्वित किया गया.

पेट्रोल-डीजल के दाम पर बोलते हुए कहा कि केंद्र सरकार के द्वारा चार बार वैट को कम किया गया ताकि महंगाई को कंट्रोल किया जा सके लेकिन राज्य सरकार के द्वारा एक बार भी वैट नहीं घटाया गया.

श्री प्रकाश ने आयुष्मान के संबंध में राज्य सरकार को घेरते हुए कहा कि केंद्र सरकार की इस योजना का मकसद था कि पैसे की कमी में किसी भी गरीब मरीज की मौत न हो लेकिन राज्य की हेमन्त सरकार ने उस योजना का नाम सिर्फ अपने नाम पर किया लेकिन सरकार ने 56 ऐसे अस्पताल जो निबंधित हैं उनका बकाया आज तक नहीं दिया. अस्पताल इलाज करने से कन्नी काट रहे हैं. उन्होंने राज्य सरकार के द्वारा ओल्ड पेंशन योजना की घोषणा पर भी चुटकी लेते हुए कहा कि राज्य के अधिकारी कह रहे हैं कि इस योजना में 17 हज़ार करोड़ रुपये खर्च होंगे, वह पैसा कहां से आयेगा. उन्होंने राज्य में अकाल की स्थिति पर बोलते हुए कहा कि 24 में से 13 जिले सुखाड़ से प्रभावित हैं. वर्षा पर निर्भर किसान परेशान 7 जिले ऐसा  है जहां सूखा की स्थिति है।

उन्होंने कहा कि भाजपा अन्याय, जनविरोधी नीतियों के खिलाफ आंदोलन करती रही है. भाजपा आगे भी  राज्य सरकार के भ्रष्टाचार, जनविरोधी नीति का विरोध करते हुए सड़क से सदन तक आंदोलन करेगी.

प्रेसवार्ता में मीडिया प्रभारी शिवपूजन पाठक, प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव, सरोज सिंह, सह प्रभारी योगेंद्र प्रताप सिंह भी उपस्थित थे.

इसे भी पढ़ें – रांची के अपर बाजार में युवक की गला रेतकर हत्या

Related Articles

Back to top button