JharkhandRanchi

मुख्यमंत्री ने औरैया हादसे के मृतकों के परिवारों को 4-4 लाख और घायलों को 50-50 हजार की सहायता की घोषणा की   

  • ट्रकों से बोकारो आ रहे मजदूरों के शव, हेमंत ने कहा-यह स्थिति अमानवीय एवं संवेदनहीनता की पराकाष्ठा
  • उत्तर प्रदेश के ओरैया में सड़क हादसे में मारे गये थे बोकारो के मजदूर, घायलों ने कहा-बर्फ की सिल्लियां पिघलने के बाद शवों की स्थिति बिगड़ती जा रही है

Ranchi : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने उत्तर प्रदेश के ओरैया में सड़क हादसे में मारे गये मजदूरों के पार्थिव शरीर को एक ट्रक के जरिये राज्य भेजने को अमानवीय एवं संवेदनहीनता की पराकाष्ठा कहा है.

मुख्यमंत्री ने बोकारो डीसी और राज्य पुलिस को निर्देश दिया है कि राज्य की सीमा में प्रवेश करते ही ट्रक से आ रहे घायलों का उचित इलाज करना सुनिश्चित करें.

साथ ही मृतकों के पार्थिव शरीर को पूरे सम्मान के साथ उनके घर तक पहुंचाने का प्रबंध कर सरकार को इसकी सूचना दे.

इसके अलावा सीएम ने इस हादसे में मारे गये सभी 11 झारखंडी मृतकों के परिवार को चार-चार लाख रुपये एवं प्रत्येक घायल व्यक्ति को 50 हज़ार रुपये की सहायता तत्काल प्रदान की घोषणा भी की है.

घायलों के इलाज की समुचित व्यवस्था भी ज़िला प्रशासन करेगा.

इसे भी पढ़ें – #Gujrat : राजकोट में प्रवासी मजदूरों ने गाड़ियों में की तोड़फोड़, पुलिस पर पथराव, एसपी व कई जवान घायल

बिहार और उत्तर प्रदेश करें परिवहन की व्यवस्था, गरिमापूर्ण व्यवस्था हम सुनिश्चित करेंगे : हेमंत

मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश सरकार और बिहार के मुख्यमंत्रियों से आग्रह किया है कि राज्य के घायल एवं मृत प्रवासी श्रमिकों के लिए झारखण्ड की सीमा तक परिवहन की बेहतर व्यवस्था करें.

झारखण्ड की सीमा पर राज्य सरकार उनके लिए गरिमापूर्ण व्यवस्था करेगी.

इसे भी पढ़ें – पढ़ें दर्द के कराहती प्रवासी बच्ची सोनोती सोरेन की पूरी कहानी

सीएम को मिली थी जानकारी

बता दें कि मुख्यमंत्री को तस्वीरों और वीडियो साझा कर बताया गया कि ओरैया हादसा में मरने वाले झारखंड के प्रवासियों के शवों को एक ट्रक पर बोकारो के चास स्थित घर भेजा जा रहा है.

घायल लोगों का कहना है कि बर्फ की सिल्लियां पिघलने के बाद शव की स्थिति बिगड़ती जा रही है. इसके बाद ही मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का यह बयान सामने आया है.

इसे भी पढ़ें – #CoronaUpdates : लोहरदगा और देवघर से मिले एक-एक कोरोना पॉजिटिव मरीज, राज्य का आंकड़ा पहुंचा 219

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: