न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई आज अंतिम बार हुए पीठ में शामिल, तीन मिनट में जारी किये 10 नोटिस

जस्टिस बोबडे देश के अगले चीफ जस्टिस होंगे.

639

New Delhi: भारत के निवर्तमान प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट के कक्ष संख्या एक में पीठ में अंतिम बार शामिल हुए. गौरतलब है कि शीर्ष अदालत का कक्ष संख्या एक प्रधान न्यायाधीश का कक्ष होता है.

17 नवंबर को चीफ जस्टिस रंजन गोगोई का कार्यकाल खत्म हो जायेगा. लेकिन इस दिन रविवार पड़ रहा है. इसके बाद जस्टिस बोबडे देश के अगले चीफ जस्टिस होंगे.

इसे भी पढ़ें- क्या सीएम रघुवर दास बांग्लादेश में जारी पीएम मोदी के उस फर्जी पत्र की पुष्टि कर रहे हैं, जिसका खंडन विदेश मंत्रालय ने किया है

तीन मिनट में 10 नोटिस

जस्टिस गोगोई महज चार मिनट के लिए इस पीठ में बैठे. इस दौरान तीन मिनट में चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने 10 नोटिस जारी किये. पीठ में उनके अतिरिक्त न्यायमूर्ति एसए बोबडे भी थे, जो देश के अगले प्रधान न्यायाधीश बनने वाले हैं.

इस दौरान सुप्रीम कोर्ट बार एसोसिएशन के अध्यक्ष राकेश खन्ना ने बार की ओर से प्रधान न्यायाधीश के प्रति आभार व्यक्त किया. भारत के प्रधान न्यायाधीश के तौर पर न्यायमूर्ति रंजन गोगोई का कार्यकाल रविवार को समाप्त हो रहा है. 

इसे भी पढ़ें- #JharkhandElection: उम्मीदवार जिनके रिश्तेदार दूसरी पार्टियों के प्रमुख पदों पर हैं काबिज

हाइकोर्ट के 650 जजों और 15,000 न्यायिक अधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये करेंगे बात

सुप्रीम कोर्ट के एक अधिकारी ने बताया कि न्यायमूर्ति गोगोई राजघाट जायेंगे. वह पिछले साल प्रधान न्यायाधीश पद की शपथ ग्रहण करने के बाद भी राजघाट गये थे.

न्यायमूर्ति गोगोई बाद में सभी उच्च न्यायालयों के 650 न्यायाधीशों और 15,000 न्यायिक अधिकारियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से बात करेंगे.

न्यायमूर्ति गोगोई द्वारा सभी न्यायाधीशों और न्यायिक अधिकारियों को को अपना संदेश भी दिये जाने की भी उम्मीद है. 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like