National

#Chhattisgarh : #ITBPCamp में एक जवान ने साथी जवानों पर फायरिंग की, छह की मौत, उसे भी मार गिराया गया

Raipur : छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) के कैंप में एक कॉन्स्टेबल द्वारा अपने पांच साथियों को गोली मार दिये जाने की खबर है.  इस घटना के  बाद उसे भी शूट कर दिया गया है.  वारदात में तीन अन्य लोग घायल हो गये हैं.  सूत्रों के अनुसार छुट्टियों को लेकर विवाद के बाद यह सनसनीखेज घटना घटी.

बस्तर क्षेत्र के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी के अनुसार नारायणपुर जिले के कडेनार गांव में स्थित आइटीबीपी के 45वीं बटालियन के शिविर में जवानों के बीच गोलीबारी हुई.  इस गोलीबारी में पांच जवानों की मौत हो गयी और तीन अन्य घायल हो गये.  बाद में हमलावर जवान को भी मार गिराया गया. जवानों के शव और घायल जवानों को रायपुर अस्पताल भेजा गया है.

इसे भी पढ़ें : #UnnaoRapeCase: सुनवाई में देरी को लेकर प्रियंका गांधी ने उठाये सवाल, कहा- लटका पड़ा ट्रायल

Catalyst IAS
ram janam hospital

आईटीबीपी का कैंप नारायणपुर से करीब 350 किलोमीटर दूर है

The Royal’s
Pitambara
Pushpanjali
Sanjeevani

बताया गया कि कडेनार स्थित आईटीबीपी का यह कैंप नारायणपुर से करीब 350 किलोमीटर दूर है.  शुरुआती जानकारी के अनुसार  ईटीबीपी के एक जवान ने सर्विस रिवॉल्वर से अचानक साथी जवानों पर फायरिंग कर दी.  अचानक हुई  गोलीबारी में जवानों को संभलने का मौका भी नहीं मिला.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार  रहमान खान नाम के कॉन्स्टेबल ने पहले अपने पांच साथियों को गोली मारी, रहमान के अंधाधुंध करने के बाद उसे शूट कर दिया गया.  अभी तक मिली जानकारी के अनुसार  छुट्टियों को लेकर विवाद हो गया था, जिसके बाद खान ने यह कदम उठाया. नारायणपुर के सुपरिंटेंडेंट ऑफ पुलिस मोहित गर्ग घटनास्थल पर पहुंच चुके हैं और इस मामले की जांच की जा रही है.

इसे भी पढ़ें : #INXMediaCase: 106 दिनों बाद जेल से बाहर आएंगे पूर्व केंद्रीय मंत्री चिदंबरम, सुप्रीम कोर्ट ने दी बेल

छुट्टी की वजह से घटना नहीं हुई होगी : गृह मंत्री

राज्य के गृह मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि इस मामले की विस्तृत जानकारी मंगाई जा रही है. जवानों की छुट्टी तय रहती है, उन्हें छुट्टी के लिए रोका नहीं जाता. इसलिए छुट्टी की वजह से घटना नहीं हुई होगी. उन्होंने कहा कि फ्रस्टेशन की कोई बात नहीं है. जवानों के बीच किसी बात को लेकर आपसी विवाद हुआ होगा. थोड़ी देर में घटना से जुड़ी और जानकारी आ जायेगी.

बताया जा रहा है कि बुधवार सुबह कडेनार कैंप में गोली चलने की आवाज आयी. गोली की आवाज सुनते ही जवान कैंप की ओर भागे. मौके पर जवानों ने देखा कि वहां जवानों के शव पड़े हुए थे. साथियों पर गोली चलाने वाले जवान की भी मौत हो गयी थी.

इसे भी पढ़ें : #INXMediaCase: चिदंबरम को बेल मिलने का कांग्रेस ने किया स्वागत, कहा- ‘सत्यमेव जयते’

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button