ChatraJharkhand

#Chatra: मुखिया को हत्या की धमकी देने और लेवी मांगने वाले तीन अपराधी गिरफ्तार

विज्ञापन

Chatra: चतरा जिले के हंटरगंज प्रखंड के नावाडीह पनारी पंचायत की मुखिया के पति केदार चौधरी से फोन पर रंगदारी मांगने वाले तीन अपराधियों को पुलिस ने 24 घंटो के भीतर धर दबोचा.

गिरफ्तार अपराधियों में हंटरगंज थाना क्षेत्र के नावाडीह पनारी गांव निवासी संतोष यादव, दीपक कुमार यादव व खरौना गांव निवासी रविंद्र कुमार यादव का नाम शामिल है.

इसकी जानकारी गुरुवार को सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी वरुण रजक ने अपने कार्यालय कक्ष में दी. एसडीपीओ ने बताया कि विगत छह अप्रैल को हंटरगंज प्रखंड के पनारी पंचायत की मुखिया पति केदार चौधरी को फोन कर एक लाख रुपया रंगदारी की मांग की  गयी थी.

इसे भी पढ़ें : whatsapp पर खबरें भेजना मुश्किल, न्यूज विंग की खबरें पढ़ते रहने के लिए हमारे Telegram चैनल से जुड़ें, जानें कैसे जुड़ें टेलिग्राम चैनल से

खुद को टीपीसी उग्रवादी बताता था युवक

बताया कि छह दिनों से मुखिया और उनके पति केदार चौधरी के मोबाइल पर उक्त युवक के द्वारा टीपीसी के नाम पर लेवी की मांग की जा रही थी.

युवक खुद को टीपीसी का उग्रवादी बताकर मुखिया और उनके पति से एक लाख रुपये और एक सौ लोगों का राशन शेरघाटी के महुआडीह पहुंचाने की मांग कर रहा था.

मुखिया पति ने इसकी जानकारी हंटरगंज थाना को दी. इस पर सदर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के निर्देश पर हंटरगंज थाना प्रभारी हंसे उरांव के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया.

इसे भी पढ़ें : #LockDown : सरकार के आदेश की प्रधानाध्यापक ने उड़ायी धज्जियां, स्कूल बुला कर दर्जनों बच्चों के बीच बांटा एमडीएम का अनाज

अपराधियों ने कबूला जुर्म

गठित टीम ने कार्रवाई करते हुए कांड में शामिल तीन लोगों को 8 अप्रैल को गिरफ्तार कर लिया.

एसडीपीओ ने बताया कि पूछताछ के क्रम में तीनों अपराधियों ने घटना में संलिप्त होने की बात स्वीकार की है. उन्होंने बताया कि गिरफ्तार अपराधियों के पास से पुलिस ने रंगदारी मांगने में प्रयुक्त मोबाइल, सिम कार्ड व एक मोटरसाइकिल जब्त किया है.

छापेमारी दल में पुलिस अवर निरीक्षक हंसे उरांव, प्रशिक्षु पुलिस अवर निरीक्षक नंदन कुमार सिंह, अजय महतो, सुखनाथ पांडेय एवं हंटरगंज सशस्त्र बल के आरक्षी शामिल थे.

इसे भी पढ़ें : हिंदपीढ़ी से पकड़े गये तबलीगी जमात के 17 विदेशी नागरिकों पर मामला दर्ज, टूरिस्ट वीजा पर आये थे भारत

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close