ChatraJharkhand

चतरा : जान पर खेलकर युवकों ने बचाई नदी में फंसे दो लोगों की जान, प्रधानमंत्री साहसिक पुरस्कार के लिए अनुशंसा करने की बात

Chatra : टंडवा के गेरुआ नदी में बुधवार को बाढ़ में फंसे ट्रैक्टर पर सवार चालक एवं एक मजदूर को स्थानीय प्रशासन ने ग्रामीणों के सहयोग से सुरक्षित बाहर निकाला गया. बताया जा रहा है कि हजारीबाग जिला अंतर्गत केरेडारी थाना क्षेत्र के गर्री गांव निवासी प्रदीप राम अपना ट्रैक्टर चलाकर टंडवा से गेरूवा नदी पार कर रहे थे. इसी बीच ट्रैक्टर गेरुआ नदी पर बने डायवर्सन पूल में फंस गया.

जिसके बाद नदी का जलस्तर बढ़ता गया. जिससे चालक प्रदीप राम एवं मजदूर गौतम ने ट्रैक्टर के ट्रेलर पर चढ़कर जान बचाई तथा लोगों से मदद की गुहार लगाई.

इसे भी पढ़ें:Ranchi News: जिले के 9 प्रखंडों में बनेगा वन धन विकास केंद्र, जेएसएलपीएस के प्रस्ताव पर समिति ने लगायी मुहर

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसकी सूचना पर टंडवा पुलिस इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी विजय कुमार सिंह, प्रखंड विकास पदाधिकारी रंथु महतो ने नदी में फंसे दोनों युवकों को रेस्क्यू करने को लेकर एनटीपीसी से आवश्यक उपकरण भेजने की बात कही.

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

एनटीपीसी के सुरक्षा में लगी सीआईएसएफ के अग्निशमन दस्ता एवं पुलिस बल बचाव कार्य को लेकर नदी के तट पर पहुंचे. रेस्क्यू करने को लेकर बचाव टीम योजना बना ही रहे थे, तभी स्थानीय युवकों ने साहस का परिचय देते हुए लगभग 3 घंटों से अधिक समय से नदी में फंसे दोनों युवकों को बचाने का बीड़ा उठाया.

इसे भी पढ़ें:उद्योग नहीं लगाने पर बड़ी कार्रवाई: मेसर्स भलोटिया इंजीनियरिंग वर्क्स लिमिटेड से 5.63 एकड़ जमीन ली जायेगी वापस

टंडवा के गुप्ता चौक निवासी कृष्णा कुमार गुप्ता के नेतृत्व में गणेश हलवाई, अवध गुप्ता, जितेंद्र कुमार गुप्ता आदि ने नदी में प्रवेश कर रस्सी के सहारे दोनों युवकों को सुरक्षित बाहर निकाला.

टंडवा थाना प्रभारी विजय कुमार सिंह ने बताया कि चतरा एसपी राकेश रंजन ने युवाओं द्वारा किए गये साहसिक कार्य से प्रभावित होकर प्रधानमंत्री साहसिक पुरस्कार के लिए अनुशंसा करने की बात कही है. थाना प्रभारी श्री सिंह ने स्थानीय स्तर पर युवकों को सम्मानित करने की बात कही है.

इसे भी पढ़ें: अगर सड़क दुर्घटना में मौत हुई तो परिजनों को बिहार सरकार अब देगी 5 लाख रुपये

Related Articles

Back to top button