ChatraJharkhand

चतरा :  27 साल पहले हुई थी फर्जी तरीके से नियुक्ति, अब बर्खास्त किया गया, डीडीसी कार्यालय में बहाल थे

Chatra :  चतरा में जिला ग्रामीण विकास अभिकरण में फर्जीवाड़ा कर हुए नियुक्ति मामले में डीसी जितेंद्र कुमार सिंह ने अब बड़ी कार्रवाई की है. डीसी ने जांच रिपोर्ट के आधार पर डीडीसी कार्यालय के प्रधान सहायक ब्रजेन्द्र कुमार को बर्खास्त कर दिया है. अवैध नियुक्ति के करीब 29 वर्ष बाद सहायक के विरुद्ध हुई बर्खास्तगी चर्चा का विषय बनी हुई है.

इसे भी पढ़ेंः धनबाद : भौंरा की बंद ओसीपी में मिला लापता महिला का कंकाल, पुलिस ने जतायी हत्या की आशंका 

डीसी ने बताया कि वर्ष 1992-93 में नियमावली व निर्देशों की अनदेखी कर ब्रजेन्द्र कुमार की नियुक्ति सहायक के रूप में हुई थी. जिसके बाद मिली शिकायत व गठित जांच टीम के रिपोर्ट के आधार पर उन्हें जनवरी 2009 में सेवा से हटा दिया गया था. लेकिन फिर उन्हें करीब 18 माह बाद अगस्त 2010 में नौकरी पर रख लिया गया.

advt

इसे भी पढ़ेंः #Fact Check: जिंदा युवक को कथित रुप से पोस्टमार्टम के लिए भेजने की खबर का सच

उनकी नियुक्ति को लेकर लगातार सवाल खड़े हो रहे थे. जिसके बाद जिले के वरीय अधिकारियों की संयुक्त टीम से मामले की पुनः जांच कराई गई. जांच में पाया गया कि पूर्व में अपनाए गए तमाम नियुक्ति प्रक्रिया नियम व डीआरडीए नियुक्ति प्रक्रिया के निर्देशों के विपरीत हैं. जिसके बाद उन्हें तत्काल प्रभाव से सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है.

डीसी के इस कार्रवाई से हड़कंप मचा हुआ है. वहीं दूसरी ओर बड़ा सवाल ये उठता है कि आखिर 27 वर्षों तक सहायक के रूप में नौकरी पर बने रहने वाले ब्रजेन्द्र को हुए मानदेय भुगतान की वसूली होगी या नहीं.

इसे भी पढ़ेंः जयपाल सिंह की जयंती पर सिमडेगा में होगा 10वीं जूनियर राष्ट्रीय महिला हॉकी चैम्पियनशिप का फाइनल

adv
advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button