न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चतरा पत्रकार हत्याकांड : राजनीतिक पार्टियों ने की मांग- हत्यारों को गिरफ्तार करो, पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित हो

40

Ranchi : चतरा के पत्रकार चंदन तिवारी की हत्या के बाद हत्यारों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर राजनीतिक पार्टियां लामबंद हो रही हैं. पार्टियों के प्रवक्ताओं का कहना है कि हत्यारों की अविलंब गिरफ्तारी हो. झाविमो के केंद्रीय प्रवक्ता योगेंद्र प्रताप सिंह ने कहा है कि चतरा के पत्रकार चंदन तिवारी की निर्मम हत्या ने फिर से यह साबित कर दिया कि पूरे प्रदेश में अपराधियों का बोलबाला है. चंदन की हत्या लोकतंत्र की हत्या है. चतरा में इसके पूर्व एक और पत्रकार की हत्या हो चुकी है. प्रदेश की स्थिति देखकर ऐसा प्रतीत होता है कि अपराधी जब चाहें, जहां चाहें, जैसे चाहें, किसी की भी हत्या कर सकते हैं. बताया जा रहा है कि चंदन को जान से मारने की धमकी भी दी जा रही थी. चंदन द्वारा इसे लेकर थाने में सनहा भी दर्ज कराये जाने की बात सामने आ रही है. अगर ऐसा है, तो पुलिस ने यदि मामले को संजीदगी से लिया होता, तो शायद आज यह दुखद घटना नहीं होती. पत्रकार चंदन की हत्या की हमारी पार्टी कड़ी निंदा करती है और पीड़ित परिवार के साथ हमारी पूरी संवेदना है. साथ ही राज्य सरकार से हम मांग करते हैं कि पत्रकार हत्याकांड का खुलासा अविलंब हो और हत्यारों की गिरफ्तारी तुरंत हो. वहीं दिवंगत पत्रकार के परिजनों को 20 लाख रुपये मुआवजा व परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी मिले.

चौथे स्तंभ पर हमला और राज्य का प्रशासन फेल : राजद

राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश महासचिव सह प्रवक्ता एवं प्रदेश अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष आबिद अली और प्रवक्ता सह महासचिव मनोज कुमार पांडे ने संयुक्त बयान जारी करते हुए कहा कि राज्य में अपराधी बेलगाम हो गये हैं. प्रदेश में राज्य सरकार का शासन नहीं, बल्कि अपराधियों का शासन चल रहा है. शासन-प्रशासन नाम की कोई चीज नहीं रह गयी है. आम लोगों के साथ-साथ चौथे स्तंभ के प्रहरी को भी टारगेट कर हमला किया जा रहा है. यह राज्य के लिए काफी चिंता का विषय है. उन्होंने कहा कि इससे पहले मई 2016 में चतरा के ही पत्रकार इंद्रदेव यादव की हत्या कर दी गयी थी. प्रशासन इसकी गुत्थी भी नहीं सुलझा पायी है और आज फिर लेखनी के माहिर चौथे स्तंभ के प्रहरी चंदन तिवारी की हत्या कर दी गयी. उन्होंने कहा कि प्रदेश में पत्रकार जो दूसरों की सुरक्षा की गुहार लगाते हैं, खुद अब अपने राज्य में असुरक्षित महसूस कर रहे हैं. प्रदेश राजद राज्यपाल से हत्या की उच्चस्तरीय जांच की मांग और प्रदेश में पत्रकारों की सुरक्षा के लिए कानून बनाने की मांग करती है, जिससे पत्रकारों को पूरी सुरक्षा मिल सके.

बुधवार को सरकार का पुतला दहन करेगा राजद

राजद के महानगर अध्यक्ष मनोज अग्रवाल ने कहा कि चतरा के स्थानीय पत्रकार चंदन तिवारी की निर्मम हत्या के विरोध में पार्टी के सदस्यों द्वारा राज्य सरकार का पुतला दहन किया जायेगा. सरकार हर व्यक्ति को सुरक्षा देने में नाकामयाब रही है. आये दिन लूट, चोरी, बलात्कार और हत्या की घटनाओं की संख्या बढ़ती जा रही है. अब तो देश के चौथे स्तंभ पर भी हमला होने लगा है. राज्य में आज कोई भी व्यक्ति खुद को सुरक्षित महसूस नहीं कर रहा है. पत्रकार, जो जनता की आवाज उठाने का कार्य करते हैं, उनकी भी जान इस सरकार में सुरक्षित नहीं है. मनोज ने कहा कि बुधवार को रांची के अल्बर्ट एक्का चौक पर सरकार का पुतला दहन किया जायेगा. इसमें दल के स्थानीय प्रदेश पदाधिकारी, जिला, महानगर के अलावा महिला, किसान, युवा, छात्र, अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के सदस्य मौजूद रहेंगे.

palamu_12

इसे भी पढ़ें- बोकारो : जैनामोड़ में जमीन कारोबारी की गोली मारकर हत्या, पुलिसिया जांच जारी

सूबे में पत्रकारों की सुरक्षा में विफल हो रही है रघुवर सरकार : राजलाल सिंह पटेल

लोकतंत्र की रक्षा करनेवाले और देश के चौथे स्तंभ के रूप में कार्य करनेवाले पत्रकार राज्य में सुरक्षित नहीं हैं. सूबे की रघुवर सरकार पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित करने में विफल साबित हो रही है. उक्त बातें एंटी करप्शन एंड क्राइम कंट्रोल कमिटी के संस्थापक सह राष्ट्रीय अध्यक्ष राजलाल सिंह पटेल ने स्थानीय तुलसी इन होटल के सभागार में संस्था की प्रदेश इकाई की बैठक को संबोधित करते हुए कहीं. उन्होंने कहा कि पत्रकार लोकतंत्र के प्रहरी हैं, देश एवं राज्य की सरकार द्वारा संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों का जानकारी आम जन तक समाचार के माध्यम से देते हैं, जिससे लोग लाभान्वित होते हैं. इतना ही नहीं, बरती जा रही लापरवाही को भी सरकार तक पहुंचाने का कार्य करते हुए आम जनता की समस्याओं एवं हो रहे शोषण के विरुद्ध भी सरकार तथा जिला प्रशासन के बीच मामलों को सामने लाकर आम जनता और सरकार के बीच कड़ी के रूप में कार्य करते हैं. वही पत्रकार आज सूबे में असुरक्षित हैं. उन्होंने यह भी कहा कि सूबे की सरकार को राज्य में पत्रकारों की समुचित सुरक्षा उपलब्ध करानी चाहिए, ताकि पत्रकार भयमुक्त होकर कार्य कर सकें. उन्होंने चतरा में पत्रकार चंदन तिवारी की निर्मम हत्या की निंदा करते हुए दोषियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई का मांग राज्य सरकार से की है. इस मौके पर संस्था के संस्थापक सदस्य सह राष्ट्रीय उपाध्यक्ष कुंज बिहारी तिवारी मेडिकल सेल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ सचिन गुप्ता मेडिकल सेल के राष्ट्रीय सचिव डॉ महेंद्र कुमार, महिला सेल की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अर्चना सिंह, लीगल सेल के प्रदेश अध्यक्ष अधिवक्ता प्रकाश रंजन, उत्तर प्रदेश के अध्यक्ष सीडी शर्मा, मेडिकल सेल के प्रदेश सचिव सुनील कुमार सिन्हा, रामगढ़ जिला इंचार्ज सूरज प्रसाद जायसवाल गढ़वा जिला अध्यक्ष प्रेमशंकर दुबे, पलामू जिला महिला सेल अध्यक्ष ललिता, देवी ट्रांसपोर्ट सेल अध्यक्ष अश्वनी शर्मा, प्रदेश महासचिव अंकित कुमार सहित संस्था के अन्य पदाधिकारियों ने संबोधित किया, जबकि बैठक की अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष शशि सिंह एवं संचालन युवा सेल के प्रदेश अध्यक्ष पिंटू मालाकार ने किया.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

%d bloggers like this: