न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#Chatra: पिपरवार कांड को लेकर लोगों में बढ़ा आक्रोश, बड़ी संख्या में जुटे स्थानीय-एरिया पूरी तरह से बंद

तीन बच्चों का हुआ था अपहरण, इनमें से दो बच्चियों की हुई हत्या

694

Chatra: जिले के पिपरवार थाना क्षेत्र के टीएमएच कॉलोनी में रहनेवाली दो बच्चियों की अपहरण के बाद हत्या मामले में स्थानीय लोगों में आक्रोश बढ़ता जा रहा है. आक्रोशित स्थानीय लोगों का विरोध प्रदर्शन जारी है.

शुक्रवार की सुबह से ही बड़ी संख्या में ग्रामीण थाना और अस्पताल को घेरे हुए हैं. पिपरवार एरिया पूरी तरह बंद है. कोई वाहन नहीं चल रहा, दुकानें भी बंद हैं.

स्थानीय लोगों ने आरोपियों को उनके हवाले करने की मांग की है. पूरे मामले को लेकर आक्रोश बढ़ता जा रहा है.सूचना है मुख्य आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और कहीं गुप्त स्थान पर पूछताछ जारी है.

इसे भी पढ़ेंःअगर कहीं वोटिंग हो तो झारखंड की ऊंचाई पर स्थित झुमरा पहाड़ के पोलिंग स्टेशन जैसी हो

Whmart 3/3 – 2/4

खून से लथपथ मिले थे बच्चे

जानकारी के अनुसार, बुधवार की शाम को तीन बच्चे लापता हो गए थे.इनमें करीब दस वर्ष की दो बच्चियां और एक आठ वर्ष का बच्चा शामिल है. तीनों बच्चे टीएमएच कॉलोनी के पास स्थित जंगल में लकड़ी चुनने गए थे. वहीं से तीनों का अपहरण कर लिया गया था.

घटना के विरोध में जुटे लोग

गुरुवार की सुबह करीब सात बजे किरीगड़ा जंगल में पहले आठ वर्षीय बच्चा खून से लथपथ मिला. इसके बाद पुलिस और परिजन बच्चियों तलाश करते हुए आगे बढ़े. उसी दौरान जंगल से ही दोपहर करीब तीन बजे दोनों बच्चियां गंभीर रूप से जख्मी हालत में पड़ी मिलीं.

इसके बाद सभी को अस्पताल ले जाया गया. वहां एक बच्ची को डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया . जबकि एक बच्ची और आठ वर्षीय बच्चे को रिम्स रेफर कर दिया गया. रिम्स पहुंचने पर डॉक्टरों ने दूसरी बच्ची को भी मृत घोषित कर दिया.

इसे भी पढ़ेंःलॉ छात्रा गैंगरेप मामला, कोर्ट में आज चार्जशीट दाखिल करेगी पुलिस

दुष्कर्म के बाद बच्चियों की हत्या की आशंका

इधर गुरुवार शाम बच्चियों की मौत से आक्रोशित लोग पिपरवार थाना पहुंच गये और आरोपियों को उनके हवाले करने की मांग करने लगे. मामला बिगड़ता देख आइटीबीपी के जवानों ने लाठीचार्ज कर दिया. गुस्साये लोगों ने पुलिस बस का शीशा तोड़ दिया.

घटना के विरोध में जुटे स्थानीय लोग

वहीं बाजार बंद करा दिया. साथ ही कोयले की ढुलाई रोक दी. देर रात तक पुलिस-पब्लिक आमने-सामने थी. लोगों को आशंका है कि दुष्कर्म के बाद बच्चियों की हत्या की गयी है. इस मामले में पुलिस ने मेडिकल बोर्ड से बच्चियों की रिपोर्ट मांगी है.

घटनास्थल के आसपास रहता है नशेड़ियों का अड्डा

मिली जानकारी के अनुसार, बच्चे पास के जंगल में हमेशा जंगली फल खाने जाया करते थे. जंगल में जांच पड़ताल के दौरान पिपरवार पुलिस ने जगह-जगह शराब और बीयर की बोतलें बरामद की. ग्रामीणों के मुताबिक, घटनास्थल के आसपास आए दिन शराबियों व जुआरियों का अड्डा रहता है. उन्होंने बताया कि 20 से 22 वर्ष के युवक यहां गांजा का भी नशा करते हैं.

इसे भी पढ़ेंःनागरिकता संशोधन विधेयक का विरोध कर रहे दो प्रदर्शनकारियों की पुलिस फायरिंग में मौत

न्यूज विंग की अपील


देश में कोरोना वायरस का संकट गहराता जा रहा है. ऐसे में जरूरी है कि तमाम नागरिक संयम से काम लें. इस महामारी को हराने के लिए जरूरी है कि सभी नागरिक उन निर्देशों का अवश्य पालन करें जो सरकार और प्रशासन के द्वारा दिये जा रहे हैं. इसमें सबसे अहम खुद को सुरक्षित रखना है. न्यूज विंग की आपसे अपील है कि आप घर पर रहें. इससे आप तो सुरक्षित रहेंगे ही दूसरे भी सुरक्षित रहेंगे.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

You might also like