ChatraCrime NewsJharkhandTODAY'S NW TOP NEWS

चतरा: पुल निर्माण पर लगा ग्रहण, लेवी की मांग पर नक्सलियों ने बंद कराया काम

Chatra: जिले के घोर नक्सल प्रभावित पत्थलगड्डा थाना क्षेत्र के अतिमहत्वाकांक्षी बकुलिया नदी पुल निर्माण पर एक बार फिर ग्रहण लग गया है. बकुलिया नदी पर बन रहे पुल निर्माण कार्य को उग्रवादियों ने रोक दिया. 15 से ज्यादा वर्दीधारी नक्सलियों ने निर्माण स्थल पर पहुंचकर कार्य मे लगे मजदूरों के साथ मारपीट कर लूटपाट की घटना को अंजाम देने के बाद काम बंद करने का फरमान सुनाया है. मजदूरों के मोबाइल फोन भी नक्सलियों ने छीन लिए.

इसे भी पढ़ेंःझारखंड कैडर आईएएस में भी चार लॉबी, एक्शन, रिएक्शन और इमोशन से भरपूर

लेवी को लेकर बंद कराया निर्माण

मालूम हो कि बकुलिया नदी में पुल निर्माण कार्य को दूसरी बार उग्रवादियों द्वारा रोका गया है. पुल निर्माण कार्य में लगे मजदूरों ने बताया कि रविवार रात लगभग नौ बजे करीब 15 से 20 की संख्या में उग्रवादी पहुंचे और सभी मजदूरों को कब्जे में कर मोबाइल बंद करा दिया. सभी ठेकेदार को खोज रहे थे. नक्सलियों की इस कार्रवाई से संवेदक दहशत में है.

Sanjeevani

मामले की जांच में जुटी पुलिस

घटना की सूचना मिलते ही सिमरिया अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रदीप कच्छप दलबल के साथ मौके पर पहुंचे और मजदूरों से मामले की जानकारी ली. घटना को लकर पूछताछ करने के बाद एसडीपीओ के नेतृत्व में नक्सलियों के धर-पकड़ को लकर पुलिस अभियान में जुट गई है. एसडीपीओ प्रदीप कच्छप ने बताया कि मामले की पड़ताल की जा रही है. जल्द ही घटना को अंजाम देकर विकास कार्य प्रभावित करने वाले नक्सलियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है.

इसे भी पढ़ेंःमसानजोर विवाद पर मंत्री लुईस मरांडी ने न्यूज विंग को दिये इंटरव्यू में कहा, विस्थापितों को पट्टा दिलाना जरूरी

जानकारी के अनुसार, पुल निर्माण के सुरक्षाकर्मी को पहले नक्सलियों ने अपना निशाना बनाया. उसके बाद वे लोग उसे मजदूरों के पास ले गए. जहां ठेकेदार और मुंशी के नहीं मिलने से नाराज नक्सलियों ने मौके पर मौजूद मजदूरों से मारपीट की और उनके मोबाइल छीन लिये. इसके बाद खुद को भाकपा माओवादी का सदस्य बताने वाले ये नक्सली मजदूरों को बगैर अनुमति के काम नहीं करने की हिदायत देकर चले गए. जाते-जाते नक्सलियों ने मजदूरों को काम करने पर गंभीर परिणाम भुगतने की चेतावनी भी दी. नक्सलियों की इस कार्रवाई से मजदूरों में दहशत है.

इसे भी पढ़ेंःलातेहार : PMAY के तहत आवास बना अधूरा, कागज पर दिखाया पूरा और निकाल ली पूरी राशि

गौरतलब है कि पूर्व में टीएसपीसी नक्सलियों द्वारा लेवी की मांग को लकर मजदूरों के साथ मारपीट करते हुए निर्माण कार्य को ठप करा दिया गया था. जिसके बाद स्थानीय पुलीस के सहयोग से निर्माण कार्य फिर से शुरू कराया गया था. लेकिन हाल के दिनों में बारिश के कारण निर्माण कार्य बंद पड़ा था. लेकिन बगैर स्थानीय थाना को सूचना दिए संवेदक द्वारा तीन दिन पहले ही निर्माण कार्य शुरू किया गया था. जिसे नक्सलियों ने एक बार फिर बंद करा दिया है.

न्यूज विंग एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड करने के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पेज लाइक कर फॉलो भी कर सकते हैं.

Related Articles

Back to top button