ChatraJharkhand

चतरा : आम्रपाली कोल परियोजना पर CBI का छापा जारी, टेरर फंडिंग संबंधी दस्तावेजों की जांच

Chatra : टंडवा थाना क्षेत्र के सेरनदाग स्थित आम्रपाली कोल परियोजना में सीबीआइ ने छापेमारी की है. सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार तीसरे दिन भी सीबीआइ की छापेमारी जारी रही. इस दौरान दौरान परियोजना से संबंधित दस्तावेजों को खंगाला गया है. छापेमारी से अधिकारियों में हड़कंप मच गया है.

Jharkhand Rai

कोल उत्पादन और डिस्पैच में गड़बड़ी की जांच

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सीबीआइ की टीम कोल उत्पादन और डिस्पैच में गड़बड़ी की जांच भी कर रही है और टेरर फंडिंग से संबंधित दस्तावेजों की भी बारीकी से जांच की जा रही है. परियोजना परिसर में बाहरी लोगों के साथ-साथ कर्मियों की एंट्री बंद कर दी गयी है. सीबीआइ टीम ने सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध कर रखे हैं.

इसे भी पढ़ें : गिलुवा ने कहा- 9 सितंबर से ‘घर-घर रघुवर’ अभियान, नड्डा ने कहा था- तीन तलाक व 370 होंगे मुद्दा

पीओ कार्यालय में भूमि एवं मुआवजा संबंधी संचिकाओं को खंगाला

सीबीआई की टीम ने दूसरे दिन सीसीएल की मगध आम्रपाली कोल परियोजना क्षेत्र में जांच पड़ताल की थी. इस दौरान टीम ने दोनों पीओ कार्यालय में पहुंचकर भूमि एवं मुआवजा से संबंधित संचिकाओं को खंगाला.

Samford

छापेमारी से कोयलांचल के लिप्टर, कोयला डीओ होल्डर, ट्रांस्पोर्टर कंपनियां अपने-अपने कार्यालय बंद कर फरार हो गये. कार्यालय में छापेमारी के बाद टीम आम्रपाली व मगध कोल परियोजना माइंस क्षेत्र पहुंची जहां ओबी व कोयले के भंडारण की जानकारी ली गयी.

सूत्रों के अनुसार ओबी व कोयला भंडारण में काफी अंतर पाया गया है. टीम द्वारा कहा जा रहा है कि सीसीएल अधिकारियो व ट्रांसपोर्टर्स की मिलीभगत से अवैध रूप से कोयला खपाये जाने का मामला सामने आ रहा है. आम्रपाली में ट्रांसपोर्टरों द्वारा अवैध वसूली को लेकर भी जांच की जा रही है. आउटसोर्सिंग कंपनी प्रबंधन से भी लंबी पूछताछ की गयी है.

इसे भी पढ़ें : टाटा स्टील में नौकरी लगाने के नाम पर ठगी करने का आरोपी रांची से गिरफ्तार

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: