ChatraJharkhand

चतरा : श्रम सुधार विधेयक 2020 के विरोध में भारतीय मजदूर संघ ने किया प्रदर्शन

  • प्रधानमंत्री के नाम उपायुक्त को सौपा ज्ञापन

Chatra: भारतीय मजदूर संघ ने श्रम सुधार विधेयक 2020 के विरोध चतरा में प्रदर्शन किया. जिला संगठन मंत्री ओम प्रकाश वर्मा के नेतृत्व में समाहरणालय के समक्ष प्रदर्शन किया गया. श्रम सुधार विधेयक के खिलाफ जमकर नारेबाजी की गयी. विधेयक में सुधार की मांग को लेकर प्रधानमंत्री के नाम उपायुक्त को ज्ञापन भी सौंपा गया.

प्रदर्शन का नेतृत्व कर रहे संगठन मंत्री ओम प्रकाश वर्मा ने कहा कि श्रम सुधार विधेयक के IR कोड 2020 एवं OHS कोड 2020 श्रम विरोधी हैं. यह विधेयक मजदूरों के हित में नहीं है. इस विधेयक के चलते श्रमिकों को कंपनियों के मालिक के रहमो करम पर जीना पड़ेगा. मजदूर अपनी मांगो को लेकर हड़ताल भी नहीं कर पायेंगे. यहां तक कि उन्हें अपनी शिकायतों एवं मांग के लिए आवाज उठाने में दिक्कत आयेगी.

ram janam hospital
Catalyst IAS

इसे भी पढ़ें:  मेयर ने विभाग से मांगे 175 करोड़, बोलीं- राजधानी का विकास करना है

The Royal’s
Pushpanjali
Pitambara
Sanjeevani

उन्होंने कहा कि ये सभी कोड मजदूरों के लिए परेशानी का सबब बन रहे हैं. इसमें मजदूरों को 12 घंटे काम करने का प्रावधान किया गया है. सामाजिक सुरक्षा को शामिल नहीं किया गया है. कंपनी जब चाहेगी तब मजदूरों को निकाल सकती है. यही कारण है कि उन्होंने प्रधानमंत्री से उपरोक्त कोड में श्रमिक विरोधी नीतियों को हटाते हुए श्रमिकों के हित में संसोधन करने की मांग की है.

इस प्रदर्शन में मगध आम्रपाली के प्रभारी रामू गोप, मगध आम्रपाली क्षेत्र के सचिव नीरज कुमार सिंह, अध्यक्ष शिव कुमार सिंह, आम्रपाली परियोजना के अध्यक्ष श्याम सुंदर गुप्ता, पिपरवार क्षेत्र के संगठन मंत्री रामवचन यादव, मगध क्षेत्र के सचिव शशिभूषण तिहारी, मगध परियोजना के अध्यक्ष पुष्पेंद्र चतुर्वेदी, प्रभु महतो, चंद्रकांत महतो, राहुल कुमार सिंह व राजेश कुमार शामिल थे.

इसे भी पढ़ें:  CM ने कहा- केंद्र की तरह हम भी ताकत लगा दें तो मचेगा हाहाकार, रघुवर बोले- जिम्मेदारी से भाग रहे हेमंत

Related Articles

Back to top button