न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चतरा : टीएसपीसी का आतंक,पर्चा चिपका मांगी लेवी

नहीं देने पर चुनचुन कर हत्या करने की दी धमकी

20

Chatra : जिले में नक्सली संगठन टीएसपीसी का आतंक थमने का नाम नहीं ले रहा है. नक्सलियों के विरुद्ध चलाए जा रहे पुलिसिया कार्रवाई को टीएसपीसी नक्सली अब रात के अंधेरे में चुनौती दे रहे हैं. क्षेत्र में घटते जनाधार और वर्चस्व स्थापित करने को लेकर रात के अंधेरे में नक्सलियों द्वारा उग्रवाद प्रभावित इलाकों में पोस्टरबाजी और परचा फेंक कर विकास कार्यों को प्रभावित करने का प्रयास किया जा रहा है.

वाहनों को फूंकने की दी धमकी

जनप्रतिनिधियों और संवेदकों के अलावे विकास योजनाओं के साइट पर पोस्टर चिपकाकर नक्सली लेवी उगाही के अपने काले साम्राज्य को फिर से स्थापित करने में जुट गए हैं. देर रात नक्सलियों ने सदर थाना क्षेत्र के घोर नक्सल प्रभावित मोकतमा पंचायत के मुखिया के घर और विकास योजनाओं में लगे वाहनों पर परचा साट कर क्षेत्र में दहशत फैला दिया है. टीएसपीसी नक्सलियों ने मुखिया टेक नारायण भोक्ता के घर के अलावे पंचायत में विभिन्न स्थानों पर संचालित विकास योजनाओं के क्रियान्वयन में जुटे वाहनों पर पर्चा साटकर लेवी की मांग की है. लेवी नहीं देने पर चुन-चुन कर मौत के घाट उतारने के अलावे विकास योजनाओं में लगे वाहनों को फूंक ने की धमकी नक्सलियों ने पर्चा के माध्यम से दिया है.

चिपकाए गए पोस्टर को पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया

लंबे समय के बाद क्षेत्र में टीएसपीसी नक्सलियों के दस्तक से ग्रामीण के अलावे क्षेत्र के मुखिया और संवेदक दशरथ में है. नक्सलियों द्वारा रात के अंधेरे में पोस्टर बाजी की जानकारी मिलते हैं सदर थाना प्रभारी राम अवध सिंह दल बल के साथ मौके पर पहुंचे और विभिन्न स्थानों पर चिपकाए गए पोस्टर को अपने कब्जे में ले लिया. थाना प्रभारी ने बताया कि टीएसपीसी नक्सलियों द्वारा क्षेत्र में दहशत फैलाने के उद्देश्य से पुराने पर्चे को साटा गया है. उन्होंने बताया कि लगातार हो रही कार्रवाई से घबराया है नक्सलियों ने क्षेत्र में अपना पुनः वर्चस्व स्थापित करने के उद्देश्य से परचा बाजी किया है. उन्होंने बताया कि पुलिस नक्सलियों की धरपकड़ के लिए लगातार अभियान चला रही है जल्द ही दहशत फैलाने वाले नक्सलियों को भी जेल भेज दिया जाएगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: