Ranchi

बजट पर चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ने रखी राय, कुछ ने बताया चुनावी घोषणाओं वाला बजट, तो कुछ ने कहा शिक्षा को रखा गया अनछुआ

विज्ञापन
  • कुछ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ने की बजट की तारीफ

Ranchi : अंतरिम बजट पेश होने के बाद से हर ओर इसकी हलचल देखी जा रही है. हर वर्ग इसमें रुचि ले रहा है. इन्हीं वर्गों में से एक है चार्टर्ड एकाउंटेंट्स का, जो इस बजट में विशेष रुचि रखते हैं. शुक्रवार को अंतरिम बजट पेश होने के बाद चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ने अपनी राय रखी. दि इंस्टिट्यूट ऑफ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया, रांची शाखा के कमल तयाल ने कहा कि चुनाव को ध्यान में रखकर लोकलुभावन बजट पेश किया गया है. यह पूरी तरह आगामी चुनाव को ध्यान में रखकर बनाया गया बजट है. छूट की सीमा को बढ़ाना एक सराहनीय कदम है. हर दिशा में विकास, पारदर्शिता, दूरदर्शिता को दर्शानेवाला यह बजट काफी महत्वपूर्ण है, लेकिन इसे जानने के बाद से लग रहा है कि यह चुनाव पर निर्भर है.

उपलब्धियों को गिनानेवाला बजट

आशीष खोवाल ने कहा कि यह बजट पूरी तरह सरकार की उपब्लिधयों को गिनानेवाला है. चुनावी साल होने के कारण यह अपेक्षित भी था. पांच लाख सालाना आय वालों को टैक्स में छूट मिलेगी और कोई टैक्स नहीं लगेगा, यह अच्छी खबर है. लेकिन, पांच लाख की आय से ऊपरवालों को कोई छूट नहीं मिली है. उन्होंने कहा कि 50,000 रुपये स्टैंडर्ड डिडक्शन काफी नहीं है. ऐसे में साफ लग रहा है कि यह घोषणाओं का बजट है.

advt

शिक्षा को रखा गया अनछुआ

दीपक गाड़ोदिया ने कहा कि इस बजट से शिक्षा को पूरी तरह अनछुआ रखा गया है. हालांकि, किसानों के लिए इसमें बहुत कुछ है. इससे साफ पता चलता है कि इसे 2022 को ध्यान में रखकर बनाया गया है. उन्होंने कहा कि अंतरिम का रूप देने के लिए बजट में योजनाएं बनायी गयी हैं.

पूर्ण न होते हुए भी पूर्ण बजट

केशव कौशल ने कहा कि यह बजट पूर्ण नहीं होते हुए भी पूर्ण है. टैक्स छूट की सीमा को बढ़ा दिया गया है. ईएसआई और ग्रेच्युटी की सीमा को बढ़ा दिया गया है. वहीं, मध्यमवर्ग जो करीब दस लाख तक की आय कर पाता है, वह अन्य छूट और सुविधाओं का लाभ लेकर टैक्स से छूट प्राप्त कर सकता है. ऐसे में साफ है कि बजट पूर्ण नहीं होते हुए भी पूर्ण है.

कुछ ने की तारीफ, कहा- किसानों और मजदूरों को मिलेगी राहत

राज कुमार ने कहा कि निवेश की सही प्लानिंग कर 6.5 लाख रुपये तक की आय पर कोई टैक्स नहीं लगेगा. इसके साथ ही कई ऐसे प्रावधान इसमें हैं, जो कर्मचारी वर्ग, पेंशनर्स, वरिष्ठ नागरिकों और छोटे व्यापारियों को लाभ पहुंचायेगा. सरकार ने इस बजट में देश के गरीब, कम आय वाले श्रमिक और किसानों की आर्थिक स्थिति सुधारने और उन्हें मजबूत बनाने के लिए काफी घोषणाएं की हैं. जो अपने आपमें काफी महत्वपूर्ण है.

adv

आधारभूत संरचनाओं में निवेश से होगा गांवों का विकास

तीरू आशीष ने कहा कि बजट सभी को ध्यान में रखकर बनाया गया है. सरकार के वादों के अनुरूप यह बजट है. उन्होंने कहा कि आधारभूत संरचानाओं में निवेश से गांवों का विकास होगा, जो देश के विकास के मार्ग में मील का पत्थर साबित होगा.

इसे भी पढ़ें- विपक्षी नेताओं और सामाजिक कार्यकर्ताओं ने की बजट की आलोचना

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button
Close