Lead NewsNationalNEWS

नियमों में बदलाव, अब एनजीओ व निजी फर्म भी जारी कर सकेंगे ड्राइविंग लाइसेंस

New Delhi: सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने के मौजूदा नियमों में बदलाव करते हुए  ड्राइविंग लाइसेंस हासिल करने में सुगमता प्रदान की है. नए नियम के अनुसार, निजी वाहन निर्माताओं, ऑटोमोबाइल एसोसिएशन, गैर-लाभकारी संगठनों (एनजीओ) या कानूनी निजी फर्मों सहित विभिन्न संस्थाओं को मान्यता प्राप्त ड्राइवर प्रशिक्षण केंद्र चलाने की अनुमति दी गई है. जाहिर है ऐसे में एनजीओ व निजी कंपनियां भी ड्राइविंग लाइसेंस जारी कर पाएंगे. मंत्रालय ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है.

इसे भी पढ़ेंःTokyo Olympics: 41 साल बाद हॉकी में पदक, भारत ने जर्मनी को 5-4 से पछाड़कर कांस्य पदक जीता  

मंत्रालय की तरफ से जारी दिशानिर्देशों के मुताबिक ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने की नई सुविधा के साथ क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (आरटीओ) द्वारा ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने की प्रक्रिया भी जारी रहेगी. मंत्रालय ने कहा है कि वैध संस्थाएं जैसे कंपनियां, गैर सरकारी संगठन, निजी प्रतिष्ठान/ऑटोमोबाइल एसोसिएशन/वाहन निर्माता संघ/स्वायत्त निकाय/निजी वाहन निर्माता चालक प्रशिक्षण केंद्र (डीटीसी) की मान्यता के लिए आवेदन कर सकेंगे.

advt

इसे भी पढ़ेंःJharkhand Corona Update: 16 जिलों में नया संक्रमित नहीं, 8 जिलों में 30 मरीज मिले

मंत्रालय द्वारा अधिसूचित की गई ये संस्थाएं क्षेत्रीय परिवहन कार्यालयों (आरटीओ) द्वारा ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने की मौजूदा सुविधा के अलावा ड्राइविंग लाइसेंस जारी करने में सक्षम होंगी. वे मान्यता के लिए आवेदन करने के पात्र होंगे. मंत्रालय ने कहा है कि इसके लिए आवेदन करने वाली कानूनी इकाई यानी वैध संस्थाओं के पास केंद्रीय मोटर वाहन नियम (सीएमवी) नियम, 1989 के तहत निर्धारित भूमि पर आवश्यक बुनियादी ढांचा या सुविधाएं होनी चाहिए. उनके पास स्थापना के बाद से एक साफ रिकॉर्ड भी होना चाहिए. आवेदक को केंद्र चलाने के लिए पर्याप्त संसाधनों का प्रबंधन करने के लिए अपनी वित्तीय क्षमता भी दिखानी होगी.

adv

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: