Education & CareerJharkhandRanchi

NEET के सिलेबस में बदलाव की सूचना हुई वायरल, NTA ने नोटिस जारी कर बताया फेक

Ranchi: मेडिकल कॉलेजों में प्रवेश के लिए होने वाली देश की सबसे बड़ी परीक्षा नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) को लेकर एक सूचना सोशल मीडिया पर वायरल हुई.

इस वायरल सूचना के मेडिकल परीक्षा की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स की परेशानी बढ़ा दी. जिसके बाद नीट आयोजित करने वाली संस्था नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) ने नोटिस जारी कर कहा कि सोशल मीडिया पर चल रही सूचना फेक है.

advt

इसे भी पढ़ें- 5 अप्रैल को 9 मिनट लाईट बुझाने और मोमबत्ती जलाने के चक्कर में ना हो जाये पूरे देश की बिजली गुल

क्या था वायरल मैसेज

दरअसल कोरानो के खतरे को देखते हुए 3 मई को होने वाली नीट परीक्षा को कैंसल कर दिया गया है. इसी बीच सोशल मीडिया में यह सूचना फैली की परीक्षा स्थगित करने के बाद नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने नीट के सिलेबस में बदलाव कर दिया है. इस मैसेज के फैलते ही मेडिकल परीक्षा की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स की परेशानी बढ़ गयी.

क्या कहा है एनटीए ने

इस वायरल मैसेज पर संज्ञान लेते हुए नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (नीट) ने नोटिस जारी किया है. इस नोटिस में एनटीए ने स्पष्ट कर दिया है कि सिलेबस में बदलाव करने को लेकर किसी तरह का निर्णय नहीं लिया गया है.

adv
एनटीए ने नोटिस जारी कर वायरल हो रहे मैसेज को फेक बताया है.

जो सूचनाएं स्टूडेंट्स को विभिन्न माध्यमों से मिल रही हैं, वह पूरी तरह से फेक है. स्टूडेंट्स नीट एग्जामिनेशन से संबंधित किसी तरह की अपडेट जानकारी के लिए एनटीए की वेबसाइट www.ntaneet.nic.in को फॉलो करते रहें.

इसे भी पढ़ें- #LockDown के बावजूद हो रही भीड़: महाराष्ट्र में निकली रथयात्रा, तो तेलंगाना में मंत्री पहुंचे मंदिर

MBBS में मिलता है दाखिला

नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की ओर से ली जाने वाली नीट परीक्षा से देश भर के मेडिकल कॉलेजों में चलाये जा रहे एमबीबीएस और बीडीएस कोर्सेस में दाखिला होता है. अभी नीट के एप्लीकेशन में करेक्शन का विकल्प फिर से खोल दिया गया है.

अगर किसी उम्मीदवार के एप्लीकेशन में किसी तरह की कोई गलती रह गयी है तो वे 14 अप्रैल तक अपने एप्लीकेशन फॉर्म में करेक्शन कर सकते हैं. एनटीए ने यह भी कहा है कि 3 मई को होने वाली परीक्षा का रद्द किया गया है, लेकिन नये तारीख की घोषणा नहीं की गयी है.

झारखंड के छह कॉलेजों में मिलता है दाखिला

नीट की रैंकिंग के आधार पर झारखंड के छह मेडिकल कॉलेजों में दाखिला मिलता है. झारखंड में रिम्स रांची, एमजीएम जमशेदपुर, पीएमसीएच धनबाद के अलावा पलामू, हजारीबाग और दूमका में मेडिकल कॉलेज हैं.

एकेडमिक इयर 2019-20 के मुताबिक राज्य में कुल 580 सीट हैं. रिम्स रांची में 180, एमजीएम जमशेदपुर में 50 और पीएमसीएच धनबाद में 50 एमबीबीएस सीटों के अलावा तीन नये मेडिकल कॉलेजों में 100-100 सीटें हैं.

इसे भी पढ़ें- कोरोना वायरस के खिलाफ लड़ाई में असली नायक हैं हमारे चिकित्सक

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close