न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चंद्रबाबू नायडू के भाजपा विरोधी मोर्चे से जुड़े डीएमके के स्टालिन

नायडू ने कहा- वह अलायंस का चेहरा नहीं

27

Chennai: टीडीपी के नेता और आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के भाजपा विरोधी मोर्चा को डीएमके के स्टालिन का साथ मिल गया है. चंद्रबाबू नायडू पूरे देश में क्षेत्रीय पार्टियों से मिल कर भाजपा के विरोध में एक मोर्चा तैयार करने में जी-जान से जुटे हुए हैं. उसी मुहिम में उन्हें यह सफलता मिली है. नायडू ने डीएमके प्रमुख एमके स्टालिन के घर जाकर उनसे मुलाकात की.

कई अहम नेता थे साथ

बैठक के दौरान डीएमके के अन्य वरिष्ठ नेता जैसे राज्यसभा सांसद एमके कनिमोझी और एमके अलागिरी भी मौजूद थे. स्टालिन ने एनडीए के खिलाफ विपक्षी पार्टियों के मोर्चे को लेकर नायडू के प्रयासों का समर्थन करने की घोषणा की. मौके पर स्टालिन ने कहा कि देशभर के  क्षेत्रीय नेताओं को बीजेपी को सत्ता से बेदखल करने के लिए तत्काल साथ आना चाहिए. स्टालिन ने सभी राज्यों के नेताओं से भाजपा के खिलाफ एकजुट होने का आह्वान किया.

40 वर्षों से कांग्रेस के साथ मतभेद, पर देशहित सर्वोपरि

चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि हमारा कांग्रेस पार्टी के साथ 40 वर्षों से मतभेद है लेकिन देश और लोकतंत्र का हित ज्यादा महत्वपूर्ण है. कांग्रेस मुख्य विपक्षी पार्टी है, उसका पूरे देश में जनाधार है. हम क्षेत्रीय नेता हैं. मैं अलायंस का चेहरा नहीं हूं. उन्होंने कहा कि गठबंधन का नेतृत्व कौन करेगा, इस पर बाद में फैसला होगा.

स्टालिन मोदी से बेहतर

एक सवाल के जवाब में नायडू ने कहा कि मैं साफ कर चुका हूं कि मेरी कोई आकांक्षा नहीं है,  मैं बस इसे आगे बढ़ा रहा हूं. मैं हर किसी को साथ लाऊंगा. हम फैसला करेंगे और चीजों को आगे बढ़ाएंगे. गठबंधन के नेतृत्व के सवाल पर उन्होंने कहा कि कई नेता हैं, स्टालिन भी नरेंद्र मोदी से बेहतर हैं.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: