न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

चुनावी साल में चंदा मिले, इसलिए मंडल डैम का शिलान्यास करने आ रहे पीएम :  कांग्रेस

2,227

Ranchi: मंडल डैम के शिलान्यास के लिए पीएम नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम के दौरान काले रंग की वस्तुओं पर रोक को लेकर कांग्रेस पार्टी ने रघुवर सरकार को आड़े हाथों लिया है. पार्टी मुख्यालय में आयोजित प्रेस वार्ता में प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने कहा कि डैम निर्माण के पीछे का मकसद भाजपा के ठेकेदारों को लाभ पहुंचना है, ताकि वे ठेकेदार चुनावी साल में भाजपा को चंदे देने का काम करें. इस दौरान पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी, कांग्रेस में शामिल हुए जदयू नेता जलेश्वर महतो भी उपस्थिति थे.

पूर्व की योजनाओं का शिलान्यास करना भाजपा की परंपरा 

डॉ अजय कुमार ने कहा कि भाजपा एक ऐसी पार्टी है और रघुवर दास ऐसे सीएम हैं जो पहले से चल रही  योजना का फिर से शिलान्यास करने की परम्परा पर काम कर रहे हैं. योजना की स्वीकृति पूर्व पीएम इंदिरा गांधी ने 1970 में की दी थी. पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा ने 1983 में इसका शिलान्यास किया था. ऐसा है तो रघुवर दास को एक बार फिर से टाटा स्टील, एचईसी, बोकारो का फिर से शिलान्यास करना चाहिए. डॉ अजय कुमार ने कहा कि इसके पीछे का मुख्य खेल भाजपा के बड़े-बड़े ठेकेदारों को लाभ पहुंचाना है. ताकि चुनावी साल के समय भाजपा वालों को एक बड़ी राशि चंदा में मिल सके.

भाजपा नीति से जनता त्रस्त, इसलिए लगा बैन 

काले कपड़े पर लगे बैन पर डॉ अजय कुमार ने कहा कि भाजपा की नीतियों के कारण राज्य की जनता पूरी तरह त्रस्त है. भूख से 17 लोगों की मौत, काले कम्बल का घोटाला, चौपट होती शिक्षा व्यवस्था, आंदोलन के दौरान शिक्षक एवं पत्रकारों की बर्बरता पूर्ण पिटाई सहित मनरेगा कर्मियों, जिला परिषद एवं पंचायत सदस्यों, गृह रक्षकों, सेविका, सहायिका के साथ हो रहे अन्याय पर जनता पीएम मोदी के राज्य दौरे का विरोध करेगी, इसे ही जानकर रघुवर सरकार ने काले कपड़े पर बैन लगाया गया है.

बिहार को लाभ पहुंचा रहे पलामू और चतरा सांसद : त्रिपाठी 

इस दौरान पूर्व मंत्री केएन त्रिपाठी ने पलामू सांसद बीडी राम और चतरा सांसद सुनील सिंह पर पीएम को गुमराह करने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि दोनों सांसद अपने राज्य बिहार को पूरी तरह से लाभ पहुंचाना चाहते हैं. इसके लिए उन्होंने प्रधानमंत्री को गुमराह करने का काम किया है. उन्होंने डैम की वस्तुस्थिति की सही जानकारी पीएम को नहीं दी है. कांग्रेस पार्टी ने पहले ही पीएम को पत्र लिख बताया है कि दरअसल डैम बनाने के पीछे की मुख्य वजह मोहम्मदगंज फीडर के लिए स्टोरेज बनाना है, ताकि बिहार के औरंगाबाद, मुंगेर, नवादा को पानी मिल सके. हकीकत यह है कि मोहम्मदगंज फीडर में पर्याप्त पानी है. दूसरी ओर राज्य के लातेहार, चतरा, पलामू, गढ़वा जिला पूरी तरह पानी विहीन है. पार्टी ने मांग की थी कि डैम से पहले केनाल निकाल कर पानी दिया जाए. लेकिन भाजपा सरकार ने ऐसा नहीं किया.

पीएम को ज्ञापन सौंपेंगे कार्यकर्ता 

उन्होंने कहा कि उनके नेतृत्व में पार्टी कार्यकर्ता कांग्रेस कार्यकर्ता एवं विस्थापित ग्रामीण शुक्रवार को 58 किमी की पदयात्रा करेंगे. मंडल डैम के विस्थापितों के संबंध में तथा इस डैम का डीपीआर बदलने के संबंध में पीएम और सीएम को ज्ञापन सौंपेंगे. .

धनबाद में खाता न बही, जो भाजपा कहे वहीं सही :  जलेश्वर महतो 

कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के उद्देश्य बताते हुए जलेश्वर महतो ने कहा कि राज्य गठन का 18 वर्ष पूरा हो गया है. फिर भी झारखंड वासी कई सुविधाओं ने वंचित हैं. इसके पीछे का मुख्य कारण भाजपा सरकार की नीतियां रही हैं. भाजपा ने क्रमबद्ध तरीके से खनिज संपदा का दोहन किया है. जो कि चरम पर पहुंच गया है. बाघमारा विधायक के बहाने भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि धनबाद के क्षेत्र में कानून व्यवस्था पूरी तरह खत्म है. स्थिति यह है कि “धनबाद में खाता न बही, जो भाजपा कहें वहीं सही”. उन्होंने कहा कि पारा शिक्षक आंदोलन, खराब होती शिक्षा व्यवस्था, शराब माफिया को संरक्षण, धनबाद से हो रही अवैध कोयले की तस्करी को देख ही उन्होंने कांग्रेस पार्टी में शामिल होने का मन बनाया है.

संवेदनशील मुद्दों पर राजनीति से ऊपर उठकर सोचें कांग्रेसी : प्रतुल शाहदेव 

भाजपा के प्रदेश प्रवक्ता प्रतुल शाहदेव ने कहा कि दशकों से बंद पड़ी मंडल डैम परियोजना को जब पुनर्जीवित करने के लिए प्रधानमंत्री पलामू आ रहे हैं, तो इसमें भी कांग्रेस को दोष नजर आ रहा है. उन्होंने कहा कि मंडल डैम परियोजना दशकों से बंद पड़ी थी. सीएम की पहल और पीएम के संकल्प के कारण ये परियोजना अब शुरू होने जा रही है. लेकिन कांग्रेस को इस में भी खोट दिखता है. दरअसल कांग्रेस आसन्न लोकसभा चुनाव के मद्देनजर नकारात्मक राजनीति पर उतर आयी है, उसके नेता राज्य सरकार और केंद्र सरकार के हर कार्य का विरोध करते हैं. भले ही वह गरीबों और किसानों के लिए ही किया हुआ क्यों ना हो. भाजपा प्रवक्ता ने कांग्रेसी नेताओं को सलाह दी उन्हें संवेदनशील मुद्दों पर राजनीति से ऊपर उठकर सोचना चाहिए.

इसे भी पढ़ेंः भूख और ठंड से आदिम जनजाति की बुधनी की मौत! बहू ने किसी तरह दो दिनों में जुगाड़े पैसे, तब हुआ अंतिम संस्कार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: