BusinessJharkhandRanchi

चेंबर का तीन दिनों का लॉक पहले ही दिन हुआ अनलॉक, खुले रहे व्यावसायिक प्रतिष्ठान 

Ranchi: चेंबर की अपील के बाद भी राज्य में दुकानें खुली रहीं. बंद के पहले दिन ही राजधानी के कई इलाकों में बड़े शोरूम से लेकर दुकानों तक को खुला देखा गया. शहर के अलग-अलग हिस्सों का जायजा लेने से जानकारी हुई कि मेन रोड, रातू रोड, हरमू, कांटा टोली, कडरू जैसे इलाकों में बाजार खुले रहे.

हद तो यह हो गयी कि चेंबर के महासचिव धीरज तनेजा का भी प्रतिष्ठान खुला रहा. कुछ चेंबर प्रतिनिधियों की दुकानें भी खुली रहीं.

मेन रोड और अपर बाजार के अधिकांश दुकानों को इस दौरान खुला देखा गया जिसमें कपड़ा, स्टेशनरी, होटल आदि शामिल हैं. प्रमुख शॉपिंग काम्प्लेक्स की बात करें तो चर्च कॉम्पलेक्स में चेंबर की इस अपील का मिला-जुला असर देखा गया. इसमें कुछ दुकानों ने शटर बंद रखा, तो कुछ दुकान खुली रहीं.

advt

रांची क्लब कॉम्पलेक्स में अधिकांश दुकानें खुली रहीं. अलबर्ट एक्का चौक के आस-पास की सभी दुकानें खुली रहीं जिसमें कपड़ा से लेकर किताब समेत अन्य दुकानें हैं. लालजी हीरजी रोड, मोरहाबादी, महावीर चौक में कुछ दुकानें बंद रहीं.

फेडरेशन ऑफ झारखंड चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्रीज की ओर से पिछले दिनों तीन दिनों तक दुकानों को बंद रखने की अपील की गयी थी. चेंबर का मत है कि तीन दिनों तक दुकान बंद करके कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन को रोका जा सकता है.

इसे भी पढ़ें – Lockdown में भी नेतरहाट में टूरिस्टों के पांव नहीं हो रहे लॉक, ग्रामीणों ने की सरकार से अपील- बंद हो पर्यटकों की इंट्री

पहले की गयी थी समर्थन नहीं देने की घोषणा

चेंबर की ओर से दुकानों को बंद रखने की घोषणा के बाद कई दुकानदार संघों ने दुकानें बंद रखने पर आपत्ति जतायी थी. मेन रोड दुकानदार सहयोग समिति की ओर से घोषणा की गयी कि वे किसी बंद के समर्थन में नहीं हैं. समिति की ओर से कहा गया कि वह सिर्फ राज्य सरकार के निर्देशों का पालन करती है, बंद का नहीं.

adv

वहीं मेन रोड व्यावसायी समिति के अध्यक्ष सुरेश मल्होत्रा ने कहा कि व्यावसायी चेंबर के समर्थन में है. लेकिन बंद के समर्थन में नहीं. प्रावधान ये होना चाहिए कि ग्राहकों और कर्मचारियों की सुरक्षा के साथ व्यापार किया जाये. बंद इसका समाधान नहीं. समाजिक और शारीरिक दूरी का पालन करते हुए व्यापार किया जाये. चेंबर में कुल 4500 व्यावसायी रजिस्टर्ड हैं.

इसे भी पढ़ें – किसानों के लिए जारी होगा एक और हेल्पलाइन नंबर, DC के पास पेंडिंग 2000 कंप्लेन

निगम क्षेत्र की दुकानों से की गयी थी अपील

चेंबर की मानें तो निगम क्षेत्र की दुकानों से बंद की अपील की गयी थी. इसमें कारखानों के लिए बंद नहीं बुलाया गया था. कोकर इलाकों के भी कारखानें इस दौरान खुले रहे. वहीं कुछ निजी कार्यालयों को इस दौरान बंद रखा गया. लेकिन इसमें अधिकांश चेंबर प्रतिनिधियों के ही निजी कार्यालय रहे. पंडरा बाजार समिति ने सिर्फ एक दिन बंद का समर्थन किया. शनिवार से बाजार खुला रहेगा.

चेंबर फतवा जारी नहीं कर सकता, अपील की गयी थी

चेंबर की अपील के बाद भी दुकानों के खुले रहने पर अध्यक्ष कुणाल आजमानी ने कहा कि चेंबर ने सिर्फ अपील ही की थी. राज्य में जब लगातार कोरोना पॉजिटिव मिल रहे हैं तो लेाग घरों से बाहर निकल रहे हैं.

वहीं पहले लोग घरों में थे. स्थिति भयावह नहीं हो, ऐसा सोच बंद की अपील की गयी थी. लोगों के ऊपर है मानें या नहीं. चेंबर फतवा जारी नहीं कर सकता है. अगर लोग मानते तो सरकार के लिए ये सुझाव होता जिसमें विकल्प के साथ व्यापार बंद करते हुए कोरोना के कम्युनिटी ट्रांसमिशन को रोका जा सके.

चेंबर ने कहा -सरकार से सहयोग जरूरी

चैंबर की ओर से जानकारी दी गयी कि रांची के अलावा गुमला, धनबाद, गिरीडीह, देवघर, पाकुड, हजारीबाग, सरायकेला-खरसावां, जमशेदपुर, चाईबासा, सिमडेगा, लोहरदगा, लातेहार, खूंटी सहित अन्य जिलों में बंद का मिला-जुला असर देखा गया.

बंद के असर को देखते हुए अध्यक्ष कुणाल आजमानी ने कहा कि चेंबर ने पहल की लेकिन कुछ लोगों ने इसका सम्मान नही किया और दुकानें खुली रखीं. कुछ जगहों मे दोपहर एक बजे के बाद तो कहीं दिन भर प्रतिष्ठान खुले रहे. अब राज्य सरकार इस पर पहल करते हुए इस पहल को लागू कराये. चेंबर को महसूस हो रहा है कि सरकार इस पहल को लागू करें, तभी चेंबर के प्रयास का सकारात्मक परिणाम होगा. इसमें सरकार और जिला प्रशासन का सहयोग बेहद जरूरी है.

इसे भी पढ़ें – तबलीगी जमात: अदालत ने 53 विदेशियों को जुर्माना भरने के बाद रिहा करने की अनुमति दी

advt
Advertisement

8 Comments

  1. I do trust all of the concepts you have presented on your post.
    They’re very convincing and can certainly work. Still,
    the posts are very quick for beginners. May just you please lengthen them a bit from subsequent time?
    Thanks for the post.

  2. We’re a bunch of volunteers and starting a brand new scheme in our community.

    Your web site offered us with useful information to work on. You’ve done an impressive task and our entire neighborhood will probably be grateful to you.

  3. Wonderful beat ! I would like to apprentice while you
    amend your site, how could i subscribe for a blog website? The account aided me a acceptable deal.
    I had been tiny bit acquainted of this your broadcast offered bright clear idea

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button