ChaibasaJamshedpurJharkhand

चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल ने आयुष्मान योजना के तहत एक साल में किये 729 ऑपरेशन, देशभर में सबसे ज्यादा राजस्व भी दिलाया

Chakradharpur : चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल ने आयुष्मान भारत योजना के तहत एक साल में 729 ऑपरेशन कर देशभर के रेलवे अस्पतालों को पछाड़ते हुए सबसे ज्यादा राजस्व अर्जित किया है. रेलवे अस्पताल के सीएमएस डाॅक्टर एसके मिश्रा के नेतृत्व में रेलवे अस्पताल के डाॅक्टरों की टीम ने 322 माईनर ऑपरेशन तथा 407 मेजर ऑपरेशन कर गंभीर रोग से पीड़ित मरीजों की जान बचाई है. माईनर ऑपरेशन में गायनिक के 159 और सामान्य के 163 मरीज थे. वहीं मेजर ऑपरेशन में गायनिक के 208, आर्थो के 17 और सामान्य के 182 मरीज थे.

चक्रधरपुर रेल अस्पताल ने आयुष्मान भारत योजना के तहत कुल 12 लाख 95 हजार 550 रुपये राजस्व का अर्जन किया है. जिसे रेल मंत्रालय को सौंप दिया गया है. इसमें से 80 प्रतिशत भाग वापस रेलवे अस्पताल को मंत्रालय द्वारा प्रदान किया जाएगा. मंत्रालय से मिले पैसों को रेलवे अस्पताल में चिकित्सा संबंधित उपकरणों पर खर्च किया जाएगा. रेलवे अस्पताल के सीएमएस डाॅक्टर एसके मिश्रा ने कहा कि एक डाक्टर होने के नाते मरीज की जान बचाना और उसे स्वस्थ कर वापस घर भेजना ही हमारा एकमात्र फर्ज और लक्ष्य है.

रेलवे अस्पताल चक्रधरपुर के तमाम चिकित्सा अधिकारी और कर्मी आंकड़ों के पीछे नहीं भागते, बल्कि विषम परिस्थिति और कम संसाधन में भी बेहतर चिकित्सा सुविधा देने का हर संभव प्रयास करते हैं. रेलवे अस्पताल का ध्यान सिर्फ रोगियों को ईलाज मुहैया कराने पर है. बेहतर काम होंगे तो आंकड़े अपने आप बन जायेंगे. उन्होंने खुशी जाहिर की कि रेलवे अस्पताल के तमाम चिकित्सा कर्मी बेहतर काम कर रोगियों को बड़े पैमाने पर स्वस्थ कर रहे हैं. रेलवे अस्पताल की उपलब्ध पर मेंस कांग्रेस ने सीएमएस को बधाई दी है. मेंस कांग्रेस का कहना है कि सीएमएस बनने के बाद डाॅ मिश्रा ने अस्पताल का ऐसा कायाकल्प किया कि मरीज अब टाटा से चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल रेफर हो रहे हैं. यही चक्रधरपुर रेलवे अस्पताल की सबसे बड़ी उपलब्धि है.

Sanjeevani

इसे भी पढ़ें – चक्रधरपुर: 31 मार्च को 49 सेवानिवृत्त रेलकर्मियों को समारोह पूर्वक दी जाएगी विदाई

Related Articles

Back to top button