ChaibasaJharkhand

Chaibasa : चाईबासा एसपीजी स्कूल ने संत जेवियर को 4-2 से हराया, इंटर स्कुल फुटबॉल टूर्नामेंट के ख़िताब पर कब्ज़ा जमाया

Chaibasa : संत जेवियर स्कुल रांची के द्वारा स्थापना के 25 साल पूरे होने पर सिल्वर जुबली मनाया जा रहा है. इसी क्रम में स्कुल के द्वारा इंटर स्कुल फुटबॉल टूर्नामेंट का आयोजन किया गया. इस टूर्नामेंट में कुल आठ स्कूल की टीम ने भाग लिया जिनमें संत जेवियर स्कूल चक्रधरपुर, कांसेप्ट पब्लिक स्कूल चक्रधरपुर, सेंट जेवियर्स बॉयज हाई स्कूल चाईबासा, कार्मेल हाई स्कूल चक्रधरपुर, महात्मा गांधी हाई स्कूल चक्रधरपुर, सेंट जेवियर इंग्लिश स्कूल जूनियर कॉलेज चाईबासा, एसपीजी मिशन बॉयज हाई स्कूल चाइबासा और मारवाड़ी हाई स्कूल चक्रधरपुर शामिल हैं. फाइनल मुकाबला एसपीजी मिशन हाई स्कूल चाईबासा और संत जेवियर इंग्लिश स्कूल जूनियर कॉलेज चाईबासा के बीच खेला गया. दोनों ही टीम ने खेल के निर्धारित समय तक जबरदस्त खेल का प्रदर्शन किया. दोनों ही टीम एक दूसरे के खेमे में गोल दागने के लिए जबरदस्त संघर्ष करते नजर आए. खिलाड़ियों ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन कर दर्शकों का दिल जीत लिया. एसपीजी मिशन स्कुल चाईबासा ने संत जेवियर स्कुल चाईबासा को 4-2 गोल से टाई ब्रेकर में हरा दिया. खेल के अंत में विजेता उपविजेता टीम और खिलाड़ियों को पुरस्कृत कर सम्मानित किया गया. इस प्रतियोगिता में बतौर मुख्य अतिथि काबीना मंत्री जोबा मांझी मौजूद थी. खेल की शुरुआत झंडोत्तोलन के साथ किया गया. इसके बाद खिलाड़ियों को प्रतिज्ञा दिलाई गई. वहीँ विद्यार्थियों के द्वारा स्वागत गीत गाया गया. इसके अलावा विद्यार्थियों ने मार्च पास्ट, अरेबिक डांस, बैंड डिस्प्ले, हिंदी गीत, आदि का आयोजन किया. मुख्य अतिथि मंत्री जोबा मांझी ने खिलाड़ियों को संबोधित करते हुए उनके हौसले को बढ़ाया और कहा कि पढ़ाई के साथ-साथ खेल का भी अपना अलग अहम महत्व है. इसलिए विद्यार्थियों को पढाई के साथ-साथ खेल पर भी ध्यान देना चाहिए. इससे ना सिर्फ शारीरिक तंदुरुस्ती रहती है बल्कि बच्चों का मानसिक विकास भी होता है और बच्चे अनुशासन को भी सीखते हैं और उसका अनुपालन करते हैं. जो कि उनके उज्जवल भविष्य के लिए फलदायी साबित होता है. मौके पर विद्यालय के प्राचार्य फादर एस पुथुमाई राज, फादर चोन्हास खलखो समेत शिक्षक शिकिशिकाएं व विद्यार्थी मौजूद थे.

Related Articles

Back to top button