ChaibasaJharkhand

#Chaibasa:75 हजार वेतन पानेवाला दारोगा 10 हजार रुपये घूस लेते पकड़ाया, केस कमजोर करने के लिए मांगी थी घूस

Chaibasa: चाईबासा के सोनुवा थाना में पदस्थापित दारोगा घनश्याम दास का मासिक वेतन करीब 75 हजार रुपये है. हर महीने करीब 75 हजार वेतन पानेवाले दारोगा घनश्याम दास को जमशेदपुर एसीबी की टीम ने मंगलवार को 10 हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार कर लिया. बता दें कि दारोगा घनश्याम दास के द्वारा दुष्कर्म कांड में केस कमजोर करने के एवज में घूस की मांग की गयी थी.

इसे भी पढ़ें – #Nirbhaya के चारों गुनहगारों को 22 जनवरी को सुबह 7 बजे फांसी

केस कमजोर करने के एवज में मांगी गयी थी घूस

Catalyst IAS
ram janam hospital

चाईबासा जिले के सोनूवा थाना क्षेत्र की रहनेवाली शकुंतला पान नाम की महिला ने जमशेदपुर एसीबी को लिखित आवेदन देकर सूचित किया था कि महिला के देवर राकेश दास के खिलाफ सोनुवा थाना में पिछले वर्ष 15 जनवरी को दुष्कर्म का मामला दर्ज हुआ था.

The Royal’s
Sanjeevani

इस मामले के अनुसंधानकर्ता दारोगा घनश्याम दास के द्वारा केस को कमजोर कर देने तथा चार्जशीट में मदद करने के एवज में एक लाख रुपये की मांग की गयी थी, लेकिन महिला इतने रुपये देने को तैयार नहीं थी, तब जाकर दारोगा घनश्याम दास 10 हजार रुपये रिश्वत लेकर कार्य करने पर सहमत हुए थे.

इसे भी पढ़ें – सर्वसम्मति से स्पीकर चुने गये रवींद्रनाथ महतो, तीसरी बार बने हैं विधायक  

एसीबी ने रंगे हाथ घूस लेते दारोगा को किया गिरफ्तार

शकुंतला पान के द्वारा एसीबी जमशेदपुर को दारोगा के द्वारा घूस मांगे जाने की शिकायत मिलने के बाद एसीबी ने मामले का सत्यापन कराया. सत्यापन के दौरान घूस मांगे जाने की बात सही पायी गयी.

इसके बाद एसीबी जमशेदपुर की टीम ने कार्रवाई करते हुए 10 हजार रुपये घूस लेते दारोगा घनश्याम दास को गिरफ्तार कर लिया. बता दें कि जमशेदपुर एसीबी का वर्ष 2020 का पहला ट्रैप है.

इसे भी पढ़ें – माफिया लाला के संरक्षण में बंगाल के अवैध कोयले का कारोबार जारी, राज्य के तीन रास्ते हो रहा खेल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button