1st LeadChaibasaJharkhandMain SliderNationalNEWS

चाईबासा : दो लाख के ईनामी PLFI जोनल कमांडर संतोष की गिरफ्तारी की पुष्टि, एसपी ने प्रेस कांफ्रेंस कर दी जानकारी

Chaibasa : चाईबासा पुलिस ने पीएलएफआई के जोनल कमांडर और दो लाख के इनामी नक्सली संतोष कंडुलना की गिरफ्तारी की पुष्टि कर दी है. गौरतलब है कि शुक्रवार को न्यूजविंग ने सबसे पहले संतोष कंडुलना को गिरफ्तार किये जाने की खबर दी थी. शनिवार को आयोजित एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में चाईबासा के एसपी आशुतोष शेखर ने बताया कि संतोष कंडुलना पर प. सिंहभूम के गुदड़ी, बंदगांव, तोरपा, तपकरा, रनिया, खूंटी, सोनुवा और मुरहू थाना में हत्या और हत्या के प्रयास समेत कुल 33 मामले दर्ज हैं.  झारखंड सरकार द्वारा उसके ऊपर दो लाख का इनाम रखा गया है. संतोष कंडुलना के पास से एक लोडेड एके-47 राइफल, एके-47 की दो मैगजीन, 103 जिंदा गोली, पीएलएफआई का रसीद बुक. दो टचस्क्रीन एवं 6 कीपैड मोबाइल, 5 सिम कार्ड, चितकबरा पाउच, काले रंग का पिट्ठू बैग और दैनिक उपयोग के सामान बरामद किये गये हैं. (नीचे भी पढ़ें)

फायरिंग कर भागने की कोशिश की थी संतोष ने
संतोष की गिरफ्तारी बंदगांव थाना क्षेत्र स्थित सोगा गांव में उसकी ससुराल से की गयी. एसपी ने बताया कि 14 जुलाई को संतोष के बारे में गुप्त सूचना मिलने पर एक पुलिस टीम का गठन किया गया था. संतोष कंडुलना के सोगा गांव में होने की सूचना पाकर पुलिस टीम ने वहां घेराबंदी की. इसी क्रम में एक संदिग्ध व्यक्ति घर के पिछले दरवाजे से फायरिंग करते हुए जंगल की ओर भागने लगा, लेकिन पुलिस बल की घेराबंदी के कारण उसे समर्पण करना पड़ा. संतोष कंडुलना को गिरफ्तार करने गयी पुलिस छापामारी टीम में सीआरपीएफ की 60वीं बटालियन के 2आईसी विकास सिंह, चाईबासा के एएसपी ऑपरेशन उमेश कुमार साह, एएसपी सह एसडीपीओ कपिल चौधरी, बंदगांव के थाना प्रभारी विकास कुमार, टेबू थाना प्रभारी सुबोध सिंह मुंडा, बंदगांव थाना के पुलिस पदाधिकारी, सैट 55 का सशस्त्र बल, सीआरपीएफ 60 क्यूआरटी, झारखंड जगुआर की 15वीं बटालियन तथा 194 बटालियन सीआरपीएफ के जवान शामिल थे,

इसे भी पढ़ें – Breaking : NCB की टीम और रातू पुलिस की संयुक्त कार्रवाई, छापेमारी के दौरान एक हज़ार किलो गांजा बरामद, सरगना गिरफ्तार

Related Articles

Back to top button