JharkhandRanchi

झारखंड विकास मोर्चा की केन्द्रीय कार्यसमिति गठित, पदाधिकारियों की लिस्ट से बाहर हुए विधायक प्रदीप और बंधु

Ranchi : झाविमो के भाजपा में विलय के कयास के बीच पार्टी की केंद्रीय कार्यसमिति के सदस्यों के नामों का सूची जारी की गयी है.केंद्रीय कार्यसमिति में 151 सदस्यों को शामिल किया गया है . नयी केन्द्रीय कार्यसमिति में केन्द्रीय अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी के अलावा, 9 केन्द्रीय उपाध्यक्ष, 1 प्रधान महासचिव, 6 महासचिव, 9 सचिव, 1 केन्द्रीय कोषाध्यक्ष, 122 केन्द्रीय कार्यसमिति सदस्य, 13 विभिन्न मंच मोर्चा के अध्यक्ष, 5 केन्द्रीय प्रवक्ता और जिला अध्यक्ष शामिल हैं.

नयी कार्यसमिति में विधायक प्रदीप यादव एवं बंधु तिर्की को कोई पद नहीं मिला. नयी समिति के नामों को घोषणा करते हुए झारखंड विकास मोर्चा के अभय सिंह ने कहा कि पार्टी को मजबूत करने के उद्देश्य से बाबूलाल मरांडी के निर्देशानुसार पार्टी कसंविधान के अनुरूप कार्य समिति का गठन किया गया है. नयी कार्य समिति के गठन के लिए 5 जनवरी को बाबूलाल मरांडी को अधिकृत किया गया था. केंद्रीय अध्यक्ष के निर्देशानुकार कार्य समिति बनाने की बात अभय सिंह ने कही.

advt

इसे भी पढ़ें :  दूरगामी योजना बनाकर करें विकास कार्य, सरकार, एनजीओ और औद्योगिक घरानों के बीच समन्वय जरूरी: मरांडी

9 केन्द्रीय उपाध्यक्ष बनाये गये

विनोद शर्मा, रामचंद्र केशरी, आश्रिता कुजूर, राम दुबे, सुन्देश्वर मुंडा, अशोक वर्मा, आरएन सहाय, शोभा यादव, बटेश्वर मेहता झाविमो उपाध्यक्ष बनाये गये हैं. प्रधान महासचिव अभय सिंह को बनाया गया है. केंद्रीय महासचिव रमेश कुमार राही, सरोज सिंह, सुरेश प्रसाद साव, राजीव रंजन मिश्रा, चंद्रनाथ भाई पटेल और संतोष कुमार को बनाया गया है.

केंद्रीय सचिव के रूप में रविंद्र सिंह ,अंजुला मुर्मू ,जितेंद्र कुमार रिंकू, सुनीता सिंह, रामनाथ सिंह ,सुनील गुप्ता, तोहिद आलम, रामदेव सिंह भोक्ता और संपत्ति देवी को शामिल किया गया है. केंद्रीय कोषाध्यक्ष संजय टोप्पो अपने पद पर बने रहेगे.

adv

इसे भी पढ़ें : पलामू: केबीसी फेम दीप ज्योति बनी ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ की ब्रांड एंबेसडर

संगठन में विधायक प्रदीप यादव और बंधु तिर्की को नहीं मिला कोई पद

झारखंड विकास मोर्चा की नयी कार्यसमिति में विधायक प्रदीप यादव एवं बंधु तिर्की को कोई जिम्मेवारी का पद नहीं दिया गया है. उन्हे मात्र केन्द्रीय कार्यसमिति सदस्य के रूप में ही रखा गया है. जबकि पूर्व में प्रदीप यादव प्रधान महासचिव एवं बंधु तिर्की केंद्रीय महासचिव के पद पर पार्टी में जिम्मेवारी निभा चुके है. वही पार्टी के पूर्व केन्द्रीय उपाध्यक्ष सबा अहमद को भी पार्टी के संगठन में स्थान नहीं दिया गया है.

इसे भी पढ़ें : राज्यपाल ने कहा-सबसे विशाल है ट्राइबल दर्शन, सीएम बोले- आदिवासी समुदायों की हैं पांच हजार संस्कृतियां

advt
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close