न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

#CentralGovernmentsDecision : सोनिया, राहुल और प्रियंका को अब #SPG सुरक्षा नहीं, कांग्रेस का विरोध

कांग्रेस ने केंद्र सरकार के इस फैसले का विरोध किया है. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा कि यह निर्णय राजनीतिक बदले की भावना से लिया गया है. 

208

NewDelhi : कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की एसपीजी (स्पेशल प्रोटेक्शन फोर्स) सुरक्षा हटायी जायेगी. उन्हें एसपीजी के बजाय सीआरपीएफ की जेड प्लस सुरक्षा प्रदान की जायेगी. खबरों के अनुसार गृह मंत्रालय की सुरक्षा समीक्षा कमेटी की बैठक में यह निर्णय लिया गया है.

जान लें कि केंद्र सरकार ने शुक्रवार को बड़ा फैसला लेते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा की एसपीजी ( सुरक्षा हटाने का फैसला लिया है. इन तीनों की एसपीजी सुरक्षा चरणों में हटाया जायेगा.

कांग्रेस ने केंद्र सरकार के इस फैसले का विरोध किया है. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा कि यह निर्णय राजनीतिक बदले की भावना से लिया गया है. उन्होंने कहा कि सरकार का फैसला दुर्भाग्यपूर्ण है.

30 may to 1 june

इसे भी पढ़ें : #Demonetization को #TerroristAttack करार दिया Rahul Gandhi ने, कहा, भारतीय अर्थव्यवस्था तबाह कर दी गयी

अब सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास ही एसपीजी सुरक्षा रहेगी

बता दें कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या के बाद पूरे गांधी परिवार को एसपीजी सुरक्षा कवर देने का निर्णय़ लिया गया था. जानकारी के अनुसार गृह मंत्रालय की सुरक्षा समीक्षा कमेटी की बैठक में यह निर्णय के बाद अब सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पास ही एसपीजी सुरक्षा रहेगी.

कमेटी की सिफारिश के अनुसार अब गांधी परिवार के सदस्य को एसपीजी के बजाय सीआरपीएफ की जेड प्लस सुरक्षा प्रदान की जायेगी. गृह मंत्रालय की बैठक में गांधी परिवार की सुरक्षा की समीक्षा की गयी और पाया गया कि उन्हें बहुत ज्यादा खतरा नहीं है. इस वजह से उनके सुरक्षा इंतजामों को बदलने का फैसला किया गया.

इसे भी पढ़ें :  #HorseTreding : महाराष्ट्र कांग्रेस का आरोप,  विधायकों को पार्टी बदलने के लिए 25 से 50 करोड़ रुपये की हो रही पेशकश

फिलहाल गांधी परिवार को कोई खतरा नहीं है 

किसी भी व्यक्ति के सामने संभावित खतरे को देखते हुए यह सुरक्षा दी जाती है. सूत्रों के अनुसार उच्च स्तरीय बैठक में यह फैसला लिया गया कि फिलहाल गांधी परिवार को कोई खतरा नहीं है और ऐसे में जेड प्लस की सुरक्षा पर्याप्त होगी. मालूम हो कि गृह मंत्रालय समय-समय पर सुरक्षा कवर को लेकर समीक्षा करता रहता है.

सूत्रों के अनुसार बैठक में एसपीजी अधिकारियों की कई रिपोर्ट को पेश किया गया. इन रिपोर्टों में यह दावा किया गया कि गांधी परिवार से कई बार कहने के बावजूद वे विदेश दौरों पर अपने साथ एसपीजी सुरक्षा नहीं ले गये. इसका मतलब कि उन्हें एसपीजी सुरक्षा की जरूरत नहीं है.

इसे भी पढ़ें :   #Demonetization : वित्त मंत्रालय के पूर्व अधिकारी ने कहा, हो रही है 2000 के नोट की जमाखोरी, इसे बंद कर देना चाहिए

 

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

o1
You might also like