न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

केंद्र सरकार  की पहल, सात तरह के अपराधों के लिए दर्ज करा पायेंगे ऑनलाइन एफआईआर

केंद्र सरकार के नागरिक केंद्रित पोर्टल पर आम जन सात तरह के अपराधों और संबंधित सेवाओं की शिकायतें और एफआईआर ऑनलाइन दर्ज करा पायेंगे.

137

NewDelhi : केंद्र सरकार के नागरिक केंद्रित पोर्टल पर आम जन सात तरह के अपराधों और संबंधित सेवाओं की शिकायतें और एफआईआर ऑनलाइन दर्ज करा पायेंगे. गृह मंत्रालय ने मंगलवार को यह जानकारी दी है. कहा गया है कि सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में जल्द ही इस पोर्टल की शुरुआत होगी. इसके अलावा इस पोर्टल के माध्यम से लोग घरेलू सहायकों, ड्राइवरों, किरायेदारों के पूर्व में हुए सत्यापन की जानकारी भी ले सकेंगे. बता दें कि इस वर्चुअल प्लेटफॉर्म पर सहित कर्मचारियों, नर्सों और किरायेदारों का सत्यापन, सार्वजनिक कार्यक्रमों की अनुमति, खोया पाया सामान और वाहन चोरी की शिकायतें भी दर्ज हो सकेंगी. गृह मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि इस सेवा का उद्देश्य आपराधिक जांच को नागरिकों के अनुकूल बनाना है.

इसे भी पढ़ेंःकिसानों की पिटाई से शुरू हुआ भाजपा का गांधी जयंती समारोह : राहुल

शिकायतों को बिना समय गंवायें राज्य और केंद्र शासित पुलिस को भेजा जायेगा

hosp3

इसके माध़्यम से लोगों की शिकायतों को बिना समय गंवायें राज्य और केंद्र शासित पुलिस को भेजा जायेगा ताकि आगे की कार्रवाई हो सके. अधिकारी के अनुसार संबंधित व्यक्तियों के निजता की रक्षा के लिए केवल अधिकृत पुलिस अधिकारियों को ही क्राइम डाटा और रिपोर्ट खोजने का अधिकार दिया जायेगा; लोगों को ई मेल के माध्यम से आपराधिक पूर्ववर्ती सत्यापन सेवाओं की जानकारी मिलेगी. याद करें कि पीएम ने 2014 में गुवाहाटी में पुलिस प्रमुखों की सालाना सम्मेलन में स्मार्ट पुलिस की अवधारणा पर जोर दिया था. कहा था कि वह ऐसी पुलिस फोर्स चाहते हैं जो देश की कानून व्यवस्था  कुशलतापूर्वक बनाये रखें.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: