न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सेंट्रल एलोकेशन व निजी कंपनियों के भरोसे झारखंड की बिजली, महज 22 दिन में ही 330 करोड़ खर्च

राज्य के एक मात्र पावर प्लांट टीवीएनएल से 22 दिन में मिली 4485 मेगावाट बिजली 22 दिन से बंद है टीवीएनएल की एक यूनिट

31

Ravi Aditya

Ranchi : झारखंड की बिजली व्यवस्था सेंट्रल एलोकेशन व निजी कंपनियों पर पूरी तरह से निर्भर है. हाल यह है कि वितरण निगम ने प्रदेश में बिजली की मांग को पूरा करने के लिये पिछले 22 दिन(नौ दिसंबर से 30 दिसंबर) तक निजी कंपनियों और सेंट्रल एलोकेशन से 14,534 मेगावाट बिजली ले चुका है. इस दौरान लगभग 330 करोड़ रुपये की बिजली खरीद की जा चुकी है. वहीं टीवीएनएल की एक यूनिट से 22 दिनों में 4485 मेगावाट बिजली मिली. एक यूनिट 22 दिनों से बंद है. सिकिदिरी हाइडल को सिर्फ तीन दिन चलाया गया. तीन दिन में सिकिदिरी प्लांट से सिर्फ 285 मेगावाट बिजली की आपूर्ति की गई.

22 दिन में 2591 मेगावाट बिजली की कटौती

कम बिजली मिलने का खामियजा भी प्रदेश की जनता को भुगतना पड़ा. नौ दिसंबर से 30 दिसंबर तक 2591 मेगावाट बिजली की लोड शेडिंग (बिजली की कटौती) की गई. जिस कारण राजधानी सहित हर जिले में चार से पांच घंटे बिजली की आपूर्ति बाधित रही. इतने दिनों के अंदर 51 मेगावाट से 257 मेगावाट तक बिजली की कटौती की गई. वहीं वितरण निगम मे 584 मेगावाट बिजली सरेंडर भी किया. 17 दिसंबर को 251 मेगावाट और 18 दिसंबर को 333 मेगावाट बिजली सरेंडर भी की गई.

निजी और सेंट्रल एलोकेशन से 769 मेगावाट तक ली गई बिजली

निजी कंपनियों इंलैंड, सीपीपी, आधुनिक सहित सेंट्रल एलोकेशन से पिछले 22 दिन में अधिकतम 756 मेगावाट तक बिजली ली गई. नौ दिसंबर को सबसे अधिक 769 मेगावाट बिजली ली गई. 10 दिसंबर को 658, 11 को 694, 12 को 625, 13 को 669, 14 को 693, 15 को 754, 16 को 733, 17 को 712, 18 को 729, 19 को 603, 20 को 709, 21 को 642, 22 को 643, 23 को 699, 24 को 685, 25 को 686, 26 को 721, 27 को 706, 28 को 718, 29 को 588 और 30 दिसंबर को 756 मेगावाट बिजली निजी और सेंट्रल एलोकेशन से ली गई.

 

किस दिन कितनी बिजली की कटौती

नौ दिसंबर 257 मेगावाट
 10 दिसंबर158 मेगावाट
 11 दिसंबर 220 मेगावाट
 12 दिसंबर 170 मेगावाट
 13 दिसंबर 228 मेगावाट
 14 दिसंबर 140 मेगावाट
 15 दिसंबर 100 मेगावाट
 19 दिसंबर 125 मेगावाट
 21 दिसंबर 60 मेगावाट
 22 दिसंबर 106 मेगावाट
 23 दिसंबर 203 मेगावाट
24 दिसंबर 129 मेगावाट
25 दिसंबर 119 मेगावाट
26 दिसंबर 155 मेगावाट
27 दिसंबर 102 मेगावाट
28 दिसंबर 51 मेगावाट
29 दिसंबर 212 मेगावाट
30 दिसंबर 206 मेगावाट

 

पिछले 22 दिन में राज्य के पावर प्लांट से कितना रहा उत्पादन

नौ दिसंबर- 227 मेगावाट
10 दिसंबर – 166 मेगावाट,
11 दिसंबर- 208 मेगावाट
 12 दिसंबर- 310 मेगावाट
13 दिसंबर- 326 मेगावाट
14 दिसंबर- 210 मेगावाट
15 दिसंबर- 207 मेगावाट
16 दिसंबर- 198 मेगावाट
17 दिसंबर: 209 मेगावाट
18 दिसंबर- 208 मेगावाट
19 दिसंबर- 212 मेगावाट
 20 दिसंबर- 205 मेगावाट
21 दिसंबर- 207 मेगावाट
22 दिसंबर- 210 मेगावाट
23 मेगावाट – 209 मेगावाट
24 दिसंबर – 211 मेगावाट
25 दिसंबर – 209 मेगावाट
26 दिसंबर – 208 मेगावाट
27 दिसंबर – 212 मेगावाट
28 दिसंबर – 202 मेगावाट
29 दिसंबर – 209 मेगावाट
30 दिसंबर – 207 मेगावाट ही बिजली मिली

 

इसे भी पढ़ें –  औरंगाबाद नक्सली हमला : नोटबंदी में नक्सलियों ने भाजपा एमएलसी को पांच करोड़ दिये थे बदलवाने, डकार गये तो हुआ हमला

इसे भी पढ़ें – जैसे शराब नहीं बंद हो सकती, वैसे ही टैक्स चोरी भी नहीं रुक सकती: महेश पोद्दार

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: