Education & CareerKhas-Khabar

क्लास 9 और 11वीं में फेल हुए स्टूडेंट्स को CBSE देगा एक और मौका, जारी हुआ नोटिस

Ranchi : सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन क्लास 9 और 11वीं के स्टूडेंट्स को पास करने का एक और मौका देने जा रही है. इस बात की जानकारी केंद्रीय मानव संसाधन विकास विभाग मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल ने ट्वीट कर दी है.

इसी आशय पर सीबीएसई ने भी नोटिस जारी किया है. सीबीएसई के परीक्षा नियंत्रक डॉ संयम भारद्वाज ने कहा है कि सीबीएसई 9वीं और 11वीं के स्टूडेंट्स के लिए अलग से व्यवस्था करेगी. उन्हें स्कूल बेस्ड टेस्ट के माध्यम से परीक्षा पास करने का अवसर दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें – #CoronaUpdates: 14 मई को पलामू से 7, कोडरमा व जमशेदपुर से 1-1 कोरोना पॉजिटिव मिले, झारखंड में संख्या 190 पहुंची

CBSE ने जारी किया है लेटर

दरअसल सीबीएसई ने अपने पत्र में लिखा है कि कोराना के इस भयावह माहौल में बच्चे और अभिभावक दोनों ही काफी परेशान हैं. वे स्टूडेंट्स सबसे ज्यादा परेशान हैं, जिन्होंने किसी कारण से अपने स्कूल एग्जामिनेशन क्लियर नहीं कर पाये हैं. ऐसे स्टूडेंट्स लगातार सीबीएसई से संपर्क कर अपनी समस्या साझा कर रहे हैं. स्कूल परीक्षाओं की क्वेयरी अभिभावकों की ओर से भी बोर्ड को लगातार मिल रही हैं.

स्टूडेंट्स और अभिभावकों के इस अनुरोध के बाद सीबीएसई ने 9वीं और 11वीं में फेल हो चुके स्टूडेंट्स को एक और अवसर परीक्षा पास करने के लिए देने का निर्णय लिया है.

स्टूडेंट्स को यह अवसर निर्धारित परिस्थतियों में ही मिलेगा. पहला या तो उनकी परीक्षा खत्म नहीं हुई होगी. परीक्षा खत्म हो गयी होगी तो वे रिजल्ट के इंतजार में होंगे.

इसे भी पढ़ें –आम आदमी की क्रय शक्ति कैसे बढ़ेगी- वित्तमंत्री के राहत पैकेज में फिलहाल इसका साफ जवाब नहीं है

छात्रों को देना होगा पर्याप्त समय

स्कूल्स अपने स्टूडेंट्स को यह अवसर ऑनलाइन या ऑफलाइन परीक्षाओं के माध्यम से दे सकता है. स्टूडेंट्स को अगली क्लास में प्रमोशन इसी टेस्ट के परफॉर्मेंश के आधार पर दिया जायेगा.

स्कूल की ओर से यह ऑनलाइन या ऑफलाइन टेस्ट सभी विषयों के लिए लिया जा सकता है. स्टूडेंट्स अपने फेल हुए विषयों में परीक्षा में शामिल हो सकते हैं.

स्कूल टेस्ट लेने से पहले स्टूडेंट्स को तैयारी करने के लिए पर्याप्त अवसर देंगे. स्कूल अपने स्टूडेंट्स का इस टेस्ट का लाभ लेने का पूरा अवसर देंगे. सीबीएसई ने स्पष्ट लिखा है कि क्लास 9 और 11 के स्टूडेंट्स का यह अवसर केवल इसी वर्ष कोरोना की परिस्थिति की वजह से दिया गया है. भविष्य में ऐसा कोई अवसर उन्हें नहीं दिया जायेगा.

इसे भी पढ़ें –रघुवर सरकार में होती थी नेताओं की निगरानी, कांके रोड में खुला था स्पेशल ब्रांच का अवैध ऑफिस, CID में होती थी फोन टेपिंग- सरयू राय

Telegram
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Articles

Back to top button
Close