JharkhandLead NewsRanchi

जज उत्तम आनंद मामले में सीबीआइ ने दो और प्राथमिकी को टेकओवर किया

Ranchi : सीबीआइ ने धनबाद में जज उत्तम आनंद हत्याकांड के दो अन्य केस को भी टेकओवर कर लिया है. सीबीआई दिल्ली की स्पेशल सेल भी इन कांडों की जांच कर रही है. एक ऑटो चोरी से जुड़े केस और दूसरा फोन चोरी से जुड़े केस को सीबीआइ ने टेकओवर किया है.

सीबीआइ ने 7 सितंबर को दो प्राथमिकी दर्ज की थी. जज उत्तम आनंद को मॉर्निंग वॉक के दौरान एक ऑटो ने लाइन बदल कर पीछे से टक्कर मार दिया था. इस मामले में ऑटो चालक लखन वर्मा और उसके सहयोगी राहुल कुमार वर्मा ज्यूडिशियल कस्टडी में हैं. दोनों से सीबीआइ की टीम रिमांड पर लेकर पूछताछ कर चुकी है.

इसे भी पढ़ें:Jharkhand : भाजपाइयों पर लाठीचार्ज की केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने की आलोचना, कहा- शर्मनाक, तुष्टिकरण से बचे सरकार

ram janam hospital
Catalyst IAS

जज को जिस ऑटो से धक्का लगा वह पाथरडीह की सुगनी देवी का है. सुगनी के अनुसार रात में उसका ऑटो चोरी हो गया था.

The Royal’s
Sanjeevani
Pushpanjali
Pitambara

पुलिस ने ऑटो को गिरिडीह के बरामद कर लिया था. साथ ही चालक और उसके सहयोगी को भी गिरफ्तार किया था.

इसे भी पढ़ें:भाजपा ने विधानसभा भवन में नमाज कक्ष आवंटन की वैधानिकता पर उठाया सवाल, कहा-फैसला वापस ले सरकार

सीबीआइ जांच में सामने आया था कि जज की हत्या से पहले दोनों आरोपियों ने रेलवे ठेकेदार पूर्णेन्दु विश्वकर्मा के पास से तीन मोबाइल फोन चुराये थे. इसी फोन से दोनों लगातार बात कर रहे थे.

हालांकि, फोन में जिन सिमकार्ड का उपयोग किया जा रहा था, वह दोनों आरोपियों के ही थे. फोन चोरी होने के बाद पूर्णेन्दु विश्वकर्मा ने इसकी रिपोर्ट एक लोकल पुलिस थाने में दर्ज करायी थी, लेकिन वहां मौजूद पुलिस कर्मियों ने इस पर ध्यान नहीं दिया. लापरवाही बरतने पर कांस्टेबल विजय यादव को निलंबित कर दिया गया था.

इसे भी पढ़ें:लाठीचार्ज के दौरान बीजेपी के 12 नेताओं को लगी गंभीर चोट, रिम्स में भर्ती

Related Articles

Back to top button