JharkhandNationalRanchiTOP SLIDER

कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले में सीबीआई कोर्ट ने रांची के बिनय प्रकाश सहित पांच को दोषी करार दिया

डोमको प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर हैं बिनय प्रकाश

New Delhi/ Ranchi: सीबीआई की नई दिल्ली स्थित एक विशेष अदालत ने कोल ब्लॉक आवंटन घोटाले के एक मामले में रांची स्थित डोमको प्राइवेट लिमिटेड के मैनेजिंग डायरेक्टर बिनय प्रकाश सहित पांच लोगों को दोषी करार दिया है. इनकी सजा के बिंदु पर कोर्ट में 15 सितंबर को सुनवाई होगी. चार जिन अन्य लोगों को इस मामले में दोषी पाया गया है, उनमें डोमको प्राइवेट लिमिटेड के निदेशक वसंत दिवाकर मांजरेकर, परमानंद मंडल और कोलकाता के चार्टर्ड एकाउंटेंट संजय खंडेलवाल शामिल है. सीबीआई ने डोमको प्राइवेट लिमिटेड कंपनी को भी दोषी माना है.

यह घोटाला लालगढ़ कोल ब्लॉक आवंटन से जुड़ा है. सीबीआई ने इस मामले में डोमको प्राइवेट लिमिटेड और इसके प्रमोटर्स और डायरेक्टर्स के खिलाफ मामला दर्ज किया था.

इसे भी पढ़ें:भाजपा का आरोप- धर्म और भाषाई टूलकिट के जरिये जनता को आपसी संघर्ष में उलझाने में लगी हेमंत सरकार

advt

1993 से 2005 के बीच कोल ब्लॉक्स के आवंटन में गड़बड़ियों के संबंध में केंद्रीय सतर्कता आयोग के निर्देश पर मामले दर्ज करने के बाद 22 दिसंबर 2015 को सीबीआई ने कोर्ट में चार्जशीट फाइल की थी.

आरोप है कि डोमको प्राइवेट लिमिटेड के प्रमोटर और एमडी बिनय प्रकाश ने कई लोगों के साथ मिलकर गलत कागजात के आधार पर लालगढ़ कोल ब्लॉक का आवंटन हासिल किया था. कोल ब्लॉक के इस गलत आवंटन के जरिए उन्होंने 7 करोड़ रुपये का नाजायज लाभ कमाया.

इसे भी पढ़ें :ममता बनर्जी फिर संकट में, रद्द हो सकता है भवानीपुर से नामांकन, भाजपा ने की गंभीर शिकायत

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: