Business

वैश्विक संकेतों के कारण कारोबार की सतर्क शुरुआत, रुपया 20 पैसे गिरा

Mumbai : अमेरिका और चीन के बीच व्यापार वार्ता को लेकर अनिश्चितता बढ़ने और  विदेशी निवेशकों की जारी बिकवाली के कारण बुधवार को घरेलू शेयर बाजार ने कारोबार की सतर्क शुरुआत की.

बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 36.04 अंक यानी 0.10 प्रतिशत की मामूली बढ़त के साथ 37,568.02 अंक पर चल रहा था. इसी तरह निफ्टी मामूली एक अंक बढ़कर 11,127.40 अंक पर चल रहा था.

इसे भी पढ़ें- वर्ल्ड कॉम्पिटिटिव इंडेक्स में भारत की रैकिंग 10 पायदान फिसल 68वें नंबर पर पहुंची, टॉप पर सिंगापुर

advt

इन बैंकों के शेयर में तेजी और गिरावट

सेंसेक्स की कंपनियों में आइसीआइसीआइ बैंक, कोटक बैंक, एलएंडटी, महिंद्रा एंड महिंद्रा, इंडसइंड बैंक, एशियन पेंट्स और एचडीएफसी बैंक के शेयर 1.39 प्रतिशत तक की तेजी में चल रहे थे.

हालांकि येस बैंक, एचसीएल टेक, ओएनजीसी, हीरो मोटोकॉर्प, टीसीएस, टाटा स्टील और इंफोसिस के शेयर 8.33 प्रतिशत तक की गिरावट में चल रहे थे. सोमवार को सेंसेक्स 141.33 अंक तथा निफ्टी 48.35 अंक गिरकर बंद हुआ था. मंगलवार को दशहरा के कारण घरेलू शेयर बाजार बंद रहे थे.

इसे भी पढ़ें- #TRAI ने इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज 58 फीसदी घटाकर जियो को पहुंचाया फायदा

 क्यों निवेशकों की धारणा पर पड़ा असर

अमेरिका ने चीन के साथ अगले दौर की व्यापार वार्ता से पहले, उसके 28 निकायों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की. इससे निवेशकों की धारणा पर असर पड़ा. इसके साथ ही अंतरराष्ट्रीय मुद्रा कोष ने दशक की सबसे निम्न वैश्विक आर्थिक वृद्धि दर का पूर्वानुमान जताया है.

adv

शुरुआती आंकड़ों के अनुसार, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआइ) ने सोमवार को 494.21 करोड़ रुपये के शेयरों की शुद्ध बिकवाली की थी.

एशियाई बाजारों में कारोबार के दौरान चीन का शंघाई कंपोजिट, हांग कांग का हैंग सेंग और जापान का निक्की गिरावट में चल रहा था. दक्षिण कोरिया का कोस्पी बढ़त में चल रहा था.

इसे भी पढ़ें- पुलिस मेंस एसोसिएशन के महामंत्री को क्यों कहना पड़ा, ‘जो जवान शहीद हुए, उनमें से कई को हम बचा सकते थे’

डॉलर के मुकाबले रुपया 20 पैसे कमजोर

घरेलू शेयर बाजारों की कमजोर शुरुआत तथा विदेशी निवेशकों की जारी बिकवाली के कारण बुधवार को शुरुआती कारोबार में रुपया 20 पैसे गिरकर 71.22 रुपये प्रति डॉलर पर आ गया.

हालांकि अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर की नरमी और कच्चा तेल के सस्ता होने से रुपये को कुछ समर्थन मिला. सोमवार को भारतीय मुद्रा 71.02 रुपये प्रति डॉलर पर बंद हुई थी.

मंगलवार को दशहरा के कारण विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार बंद रहा था. शुरुआती आंकड़ों के अनुसार, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआइ) ने सोमवार को 494.21 करोड़ रुपये के शेयरों की शुद्ध बिकवाली की थी.

advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button