न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

पलामू रेडक्रॉस सोसाईटी : न हुए मोतियाबिंद ऑपरेशन न हुआ सदस्यता विस्तार

1,291

Palamu: पलामू के उपायुक्त सह अध्यक्ष रेडक्रॉस सोसाईटी डा. शांतनु कुमार अग्रहरि की अध्यक्षता में संपन्न प्रबंध समिति की बैठक में पारित जनोपयोगी संकल्प हवा-हवाई हो गये हैं. गौरतलब है कि रेडक्रॉस प्रबंध समिति की बैठक हुए तीन माह बीत चुके हैं. यह बैठक 12 अक्टूबर 2018 को उपायुक्त के कार्यालय कक्ष में आयोजित की गयी थी. पलामू के उपायुक्त पद पर आसीन होने के बाद ‘रेडक्रॉस’ के साथ उनकी प्रथम बैठक थी. किन्तु सचिव महोदय ने सदस्यों एवं पदधारियों के साथ परिचय कराना भी उचित नहीं समझा. इस बैठक में उपायुक्त का उत्साह देख कर ऐसा लगा था कि रेडक्रॉस की पलामू शाखा के कार्यकलापों में तेजी आयेगी. हालांकि उपायुक्त महोदय ने प्रत्येक प्रस्तावित परियोजना में अपना पूर्ण सहयोग देने का पक्का इरादा प्रकट किया था. लेकिन पारित प्रस्तावों को प्रबंध समिति के सचिव द्वारा ताक में रख दिया गया और सामाजिक कार्य सम्पन्न कराने के लिए कोई प्रयास तक नहीं किया गया.

1001 मोतियाबिंद ऑपरेशन

उपायुक्त के सुझाव पर 1001 लोगों के मोतियाबिंद ऑपरेशन का लक्ष्य रखा गया था. बैठक में उपस्थित पलामू के सिविल सर्जन सह उपाध्यक्ष रेडक्रॉस पलामू डा. कलानंद मिश्र और अतिथि की तौर पर उपस्थित डीपीएम प्रवीण कुमार सिंह ने इस पुनीत कार्य हेतु पूरा सहयोग देने तथा प्रति ऑपरेशन सरकार द्वारा निर्धारित राशि ससमय भुगतान कराने के लिए आश्वस्त किया. उपायुक्त ने सचिव से कहा कि ऑपरेशन हेतु यह तीन माह उपयुक्त हैं. लेकिन आज की तिथि में तीन माह बीत गये और सचिव महोदय ने इस विषय पर सुगबुगाहट नहीं दिखायी.

पॉलिथिन बैग के इस्तेमाल को रोकने का संकल्प

उपायुक्त सह अध्यक्ष पलामू के सुझाव पर सर्वसम्मिति से निर्णय लिया गया था कि पॉलिथिन बैग आदि के प्रचलन को रोकने के लिए रेडक्रॉस द्वारा झारक्राफ्ट से जूट या कपड़ा का बैग बनवाया जाये, जो किफायती दर पर उपलब्ध होता है. बैठक में अगले तीन माह में पॉलिथिन पर पूर्णतः प्रतिबंध लगा देने का लक्ष्य रखा गया.

रेडक्रॉस पलामू के सदस्यता विस्तार का फैसला

बैठक में उपायुक्त के पूछने पर सचिव ने जानकारी दी कि वर्तमान में सोसाईटी की पलामू शाखा की सदस्य संख्या करीब पांच सौ है. उपायुक्त के सुझाव पर निर्णय लिया गया कि अगले तीन माह में सोसाईटी को पांच हजार नये सदस्यों से जोड़ा जाए ताकि द्विवार्षिक चुनाव भी दिलचस्प और उत्साहपूर्ण वातावरण में हो सके. इस संबंध में गौरतलब है कि कई इच्छुक लोगों ने सदस्यता फार्म की मांग की. सचिव ने उनको यह कह कर टाल दिया कि सदस्यता विस्तार उपसमिति से या रेडक्रॉस के शाखा कार्यालय से संपर्क करें. लोगां ने कार्यालय से पूछताछ की तो वहां तैनात कर्मी ने बताया कि सदस्यता फार्म किसी को न देने का निर्देश है.

दो साल बीत गये, एक भी एजीएम नहीं

यहां रेडक्रॉस की पलामू शाखा के कार्यालयों की चर्चा की जाये तो चौंकाने वाली बात यह है कि सोसाईटी की पिछले दो वर्षों में एक भी वार्षिक आम सभा (एजीएम) नहीं आहूत की गयी, जबकि सोसाईटी के संविधान में स्पष्ट उल्लेख है कि वर्ष में एक बार एजीएम को बुलाना अनिवार्य है. कार्यकाल समाप्त हो गया है लेकिन एजीएम का पता नहीं.

इसे भी पढ़ेंः शहीद निलांबर-पितांबर को भूली रघुवर सरकार, बिना उनके गांव की मिट्टी के शौर्य पार्क के लिए हुआ मिट्टी संग्रह

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Comments are closed.

%d bloggers like this: