GiridihJharkhand

गिरिडीह की बालमुंकुद फैक्ट्री में क्रेन चालक की मौत का मामला:  ढाई लाख रुपये मुआवजा देने पर सहमत हुआ प्रबंधन

Giridih :  क्रेन चालक की बालमुंकुद स्टील फैक्ट्री में मौत के दूसरे दिन रविवार को परिजनों ने फैक्ट्री गेट जाम कर दिया. परिजन और माले नेताओं का आक्रोश भड़का हुआ था. एसडीएम प्रेरणा दीक्षित के निर्देश पर फैक्ट्री परिसर में भारी सुरक्षा बल के जवानों को तैनात कर दिया गया था. मृतक के आश्रितों को न्याय दिलाने के लिए नगीना सिंह रोड की महिलाएं और युवतियां भी गेट जाम आंदोलन में शामिल हो गयीं.

इसे भी पढ़ेंः बोर्ड परीक्षा की तैयारी को लेकर शिक्षकों की होगी ऑनलाइन ट्रेनिंग

भाकपा माले नेता राजेश यादव और राजेश सिन्हा के नेत्तृव में सुबह से ही धरना-प्रदर्शन शुरू हो चुका था. मुफ्फसिल थाना में माले नेताओं व परिजनों के साथ सदर एसडीएम प्रेरणा दीक्षित और एसडीपीओ अनिल सिंह के साथ वार्ता हुई.

जिसमें मृतक के आश्रितों को ढाई लाख का मुआवजा देने की बात हुई. जबकि माले नेता और परिजन प्रबंधन से आठ लाख की मांग कर रहे थे. इससे पहले गिरिडीह-धनबाद रोड के चतरो स्थित बालमुंकुद फैक्ट्री के गेट पर सारा दिन जाम लगा रहा.

इसे भी पढ़ेंः नाबालिग की ‘जबरन’ करायी जा रही थी शादी, चाइल्ड लाइन ने रुकवायी

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: