HazaribaghJharkhand

हजारीबाग : पत्रकार पर केस दर्ज, पुलिस पर गुमराह करने का आरोप

Hazaribagh : इचाक के दैनिक अखबार के संवाददाता कुलदीप कुमार को थाना के पुलिसकर्मी युवाओं द्वारा मारपीट का मामला अब तूल पकड़ने लगा है. मामले को लेकर सिझुवा उच्च विद्यालय परिसर में पत्रकारों की बैठक हुई. जिसकी अध्यक्षता गणेश कुमार एवं संचालन अनिल कुमार ने की. बैठक में पत्रकार संघ के मजबूती पर चर्चा की गयी.

इसके साथ ही गत 10 अप्रैल को सिपाही लाइन होटल के समीप एनएच-33 पर हुई सड़क हादसे को लेकर चर्चा की गयी. खबर संकलन करने पत्रकार कुलदीप कुमार थाना पहुंचे, तो एएसआई शाकेष कुमार सिंह के द्वारा अभद्र व्यवहार करते हुए पत्रकार को थाना से बाहर जाने की धमकी दी गयी. जिससे विवाद बढ गया.

इसे भी पढ़ें–ऊर्जा विभाग की लापरवाही से जनता को बिजली बिल से लग रहा ‘करंट’: बाबूलाल मरांडी

जहां थाने के स्टाफ एसआई राधेश्याम कुमार, विनायक पांडेय, कंप्यूटर संचालक सुमित आनंद के द्वारा पुलिसिया रौब दिखाते हुए कुलदीप के साथ मारपीट की गयी.

advt

घटना सूचना जब पत्रकार संघ को मिली तो थाना प्रभारी देवेंद्र कुमार की उपस्थिति में उसी शाम समझौता कर लिया गया. मामले में डेढ़ महीना बाद एसआई राकेश कुमार सिंह द्वारा ईचाक थाना कांड संख्या 104/21 के तहत मामला दर्ज किया गया. जो बेबुनियाद है.

इसे भी पढ़ें–जम्मू कश्मीर के नेताओं के साथ कल इन मुद्दों पर होगी पीएम मोदी की बात, New Wing के पास बैठक के एजेंडे की Exclusive जानकारी

इस मामले को लेकर इन दिनों ईचाक के पत्रकारों में आक्रोश है. इस दौरान पत्रकारों ने कहा कि अगर झूठा मुकदमा वापस नहीं लिया गया तो प्रखंड स्तर से लेकर राज्यस्तर पर आंदोलन किया जायेगा.

बैठक में प्रेस क्लब इचाक के संरक्षक रामशरण शर्मा, दीपक कुमार सिंह, अरुण कुमार वर्मा, रामावतार स्वर्णकार, अभिषेक कुमार, महेश कुमार मेहता, अशोक राम, सिकंदर मेहता, सुशांत सोनी, कुलदीप कुमार, रमेश रंजन, रंजीत कुमार मेहता, श्यामदेव मेहता, विनय कुशवाहा के अलावा कई पत्रकार मौजूद थे.

इसे भी पढ़ें– बगैर किसी नयी छूट के स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह 1 जुलाई तक बढ़ा

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: