GiridihJharkhand

जमुई के पांच कोयला कारोबारियों के खिलाफ गिरिडीह के बेंगाबाद थाना में केस दर्ज

Giridih: बिहार-झारखंड के गिरिडीह-जमुई के सीमावर्ती गांव बदवारा गांव में कोयले के अवैध कारोबार के खिलाफ बेंगाबाद थाना पुलिस ने छापेमारी किया था. इस दौरान पुलिस ने अवैध कोयला लदा वाहन जब्त किया साथ ही वाहन के चालक संजय रजक को गिरफ्तार किया था. जो जमुई के झाझा के धमना गांव का रहने वाला है. उसी ने पुलिसिया पूछताछ में इस अवैध धंधे में शामिल लोगों के नाम बताये. जिसमें चकाई थाना क्षेत्र के बेला गांव निवासी सिरनदेव राय, शंकर चौधरी, छोटू राय और गुड्डु राय शामिल है. पुलिस सूत्रों की मानें तो जमुई के ये धंधेबाज पिछले कई सालों से कोयले के अवैध कारोबार में शामिल है. क्योंकि गिरिडीह-जमुई के सीमावर्ती गांव बदवारा ही धंधेबाजों के लिए वह अड्डा माना जाता है. जहां धंधेबाज कोयले का सारा अवैध स्टॉक डंप कराते हैं. इसी बदवारा गांव से डंप कोयले के अवैध स्टॉक को धंधेबाज इसके बाद जमुई जिला के चकाई थाना क्षेत्र के बेला और सरोन समेत कई और इलाकों में दो और चार पहिया वाहनों से खपाते हैं. क्योंकि धंधेबाजों के लिए बदवारा गांव कोयले के अवैध कारोबार के लिए सुरक्षित स्थान के रुप में जाना जाता है. वैसे कोयले के अवैध कारोबार के खिलाफ लगातार कार्रवाई जारी है. इसके बाद भी गिरिडीह से जमुई के लिए कोयले के अवैध आपूर्ति को पुलिस खत्म नहीं कर पा रही है. क्योंकि हर रोज सुबह सैकड़ो दो पहिया वाहनों में धंधेबाज गिरिडीह से इसी बदवारा गांव तक पहुंचाते हैं.

इसे भी पढ़ें: गिरिडीह में चोरी के आरोप में युवक की पिटाई,गंभीर स्थिति में अस्पताल में इलाजरत

Related Articles

Back to top button