JharkhandLead NewsRanchi

कश्मीरी युवकों से मारपीट का मामला: फुटेज के आधार पर लोगों ने आरोपियों को बताया निर्दोष

एक आरोपी ने दर्ज करायी काउंटर एफआइआर

Ranchi : शनिवार को कडरु पुल, रांची के समीप कुछ लोगों पर मारपीट का आरोप लगाते हुये तीन कश्मीरी युवकों ने डोरंडा थाना में शिकायत दर्ज कराई . उनका आरोप है कि उनके साथ मारपीट की गयी. 20 से अधिक युवकों ने उन्हें नुकसान पहुंचाया है. सारा सामान लेकर फरार हो गये. इसके बाद थाना ने 3 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की. कश्मीरी युवकों से मारपीट के मामले की खबर पर डोरंडा के कई स्थानीय लोग भी डोरंडा थाना पहुंच गये. मारपीट में शामिल सभी लोगों को पकड़े जाने की मांग करने लगे. इस मामले में पुलिस ने 3 आरोपितों को शनिवार को ही गिरफ्तार कर पूछताछ शुरू कर दी.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand : केंद्रीय अध्यक्ष शिबू सोरेन के आदेश पर 22 जिलों में झामुमो ने किया जिला समितियों का गठन

advt

इधर रविवार को इस मामले में सामने आये वीडियो फुटेज के आधार पर दावा किया जा रहा है कि पुलिस ने जिन युवकों को गिरफ्तार किया है, उन्होंने मारपीट नहीं की. घटनास्थल के पास रहने वाले लोगों का कहना है कि ठेले की पार्किंग को लेकर कुछ लोगों ने टोका तो इस पर विवाद होने लगा. दोनों ओर से हल्की हाथापाई हुई तो कश्मीरी युवकों ने ही डोरंडा से अपने करीबियों को बुलाकर माहौल गर्म कर दिया. हालांकि पुलिस वीडियो फुटेज के आधार पर जांच करने में लगी है. फिलहाल गिरफ्तार युवकों के परिजनों और सामाजिक संगठनों से जुड़े लोगों ने युवकों को रिहा करने की मांग सरकार और पुलिस से की है. उन्होंने तीनों कश्मीरियों पर झूठे केस में शिकायत दर्ज करने के लिए उनके खिलाफ कानूनी एक्शन उठाने की मांग की है.

देखें वीडियो – 

मामले को दिया जा रहा अनावश्यक तूल

नाम नहीं छापने की शर्त पर एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि मामले को अनावश्यक तूल दिया जा रहा है. पुलिस ने कडरु पुल के पास स्थित एक होटल से वीडियो फुटेज को देखा है. इसमें कहीं से भी यह बात सामने नहीं आ रही कि गिरफ्तार युवकों ने मारपीट की हो. दोनों से हाथापाई होती दिख रही है. पार्किंग इश्यू पर माहौल को अनावश्यक तूल दिया गया है. पुलिस अपनी ओर से निष्पक्ष तरीके से जांच कर दोषियों को सजा दिलायेगी.

पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे से डोरंडा थाना प्रभारी ने किया इनकार

धार्मिक उन्माद व पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाने से डोरंडा थाना प्रभारी ने इनकार किया है. उन्होंने बताया कि पुलिस की जांच में इस प्रकार के मामले सामने नहीं आये हैं. कुछ लोग धार्मिक उन्माद फैलाने की प्रयास कर रहे थे. पुलिस आगे की कार्यवाही में जुटी हुई है.

इसे भी पढ़ें :  राम मंदिर कमेटी ने पेश किया दो साल के कार्यों का लेखाजोखा, कोरोना काल में सहयोग के लिए जताया आभार

थाना स्तर पर बनेगी कश्मीरी युवकों की लिस्ट

सदर डीएसपी प्रभात रंजन के मुताबिक थाना स्तर पर सभी कश्मीरी युवकों की लिस्ट बनायी जायेगी. उस लिस्ट को संबंधित थाना प्रभारी को दिया जायेगा. शहर में कुछ ऐसे असामाजिक तत्व हैं जो कानून व्यवस्था को चैलेंज करते हैं. इस मामले को लेकर प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है. पुलिस अन्य अपराधियों की तलाश में जुट गई है. पुलिस सभी अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेजेगी. इस प्रकार की घटना आगे ना हो इसके लिए पुलिस और प्रशासन की टीम काम करेगी.

जांच में लगी है पुलिस

डोरंडा थाना पुलिस के मुताबिक मामले की फिलहाल जांच की जा रही है. लोग इस केस को दूसरे प्रकार का रंग देने की कोशिश कर रहे हैं. जल्द ही इस मामले की सही जानकारी हासिल कर ली जायेगी.

इसे भी पढ़ें : बागबेड़ा जलापूर्ति को लेकर झूठ बोल रही हैं मुखिया जी, चार दिनों के बाद भी नहीं हुआ उनका ‘कल’

तरुण ने कराया काउंटर एफआईआर

कश्मीरी युवक से हुई मारपीट मामले में आरोपी तरुण कुमार की ओर से डोरंडा थाना में एक काउंटर एफआईआर दर्ज कराया गया है. जिसमें उसने कश्मीरी के द्वारा उनसे मारपीट की बात कही गई है. वही कई स्थानीय रविवार को डोरंडा थाना पहुंचे. उन्होंने कुछ स्थानीय लोगों के ऊपर मामले को धार्मिक रंग देने का आरोप लगाया. वहीं पुलिस पर दबाव में पक्षपात का भी आरोप लगाया. फिलहाल आरोपी तरुण कुमार को पुलिस जेल भेजने की तैयारी में है.

advt

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: