BiharLead News

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ के खिलाफ एक समुदाय विशेष के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का मामला दर्ज

मुजफ्फरपुर CJM कोर्ट में परिवाद दर्ज

Muzaffarpur : यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के ‘अब्बाजान’ वाले बयान पर जहां लगातार सियासत जारी है, वहीं यह अब कानूनी विवाद भी शुरू हो गया है. बिहार के मुजफ्फरपुर में परिवाद दायर किया गया है. जानकारी के अनुसार मुजफ्फरपुर के सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने सीजेएम कोर्ट में परिवाद दाखिल कराया है, जिसमें यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को आरोपी बनाया गया है.

इसे भी पढ़ें : भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने कर दिया साफ, चिराग को बताया बाहरी, नहीं करेंगे कोई समझौता

बिहार के मुजफ्फरपुर जिले के अहियापुर थाना क्षेत्र के भीखनपुर निवासी तमन्ना हाशमी ने उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ पर एक समुदाय के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए सीजेएम कोर्ट में परिवाद दर्ज करवाते हुए आरोप लगाया कि उनके बयान से समुदाय के लोग अपमानित महसूस कर रहे हैं.
इसी को लेकर तमन्ना हाशमी ने परिवाद दायर किया है. उनका कहना है कि सूबे के एक बड़े संवैधानिक पद पर बैठे सीएम का यह बयान देश को तोड़नेवाला है.

advt

इसे भी पढ़ें : कोडरमा : बिजली तार की चपेट में आने से 6 पशुओं की मौत

तमन्ना हाशमी ने अपनी याचिका में उत्तर प्रदेश की पूर्ववर्ती सरकारों की तुलना करते हुए सीएम योगी ने एक धर्म विशेष के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिया है.

बता दें कि बीते रविवार को सीएम योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव का नाम लिये बिना आरोप लगाया, ‘अब्बाजान’ कहनेवाले गरीबों की नौकरी पर डाका डालते थे. पूरा परिवार झोला लेकर वसूली के लिए निकल पड़ता था. अब्बाजान कहनेवाले राशन हजम कर जाते थे. राशन नेपाल और बांग्लादेश पहुंच जाता था. आज जो गरीबों का राशन निगलेगा, वह जेल चला जायेगा.’
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के इसी बयान को लेकर मुजफ्फरपुर में परिवाद दायर किया गया है.

इसे भी पढ़ें :बर्मामाइंस में महिला से पर्स और मोबाइल छीन ले गये झपटमार, परसूडीह से दो बाइक चोरी

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: