न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

सावधान ! ऑनलाइन शॉपिंग करने वालों पर ठगों की नजर

टीवी और कार जीतने का दे रहे झांसा

69

Ranchi : यदि आप ऑन लाइन शॉपिंग करते है तो सावधान हो जाइये. इन दिनों ऑनलाइन शॉपिंग में ठगी का मामला सामने आ रहा है. स्नैप डील हो या अमेजॉन या फिर शॉपक्लस कई ऑनलाइन शॉपिंग साइट्स से इस प्रकार की शिकायतें मिल रही है. ठगों ने लोगों को ठगने के लिए एक नये प्रकार के फार्मूले का इजात किया है. ठग वैसे ग्राहकों का चयन करते है जिन्होंने ऑनलाइन शॉपिंग किया है और उनके द्वारा मंगवाई गई सामग्री डिलीवर भी हो चुकी है.

इसके बाद ठग अपनी भूमिका निभाते हुए ग्राहक को फोन या मैसेज के माध्यम से बंपर इनाम जितने की खबर सुनाते है. अब तक रांची के कई लोगों के पास फोन आ चुका है. साथ ही इस बंपर ईनाम को प्राप्त करने के लिए रजिस्ट्रेशन कराने की बात करते है. रजिस्ट्रेशन के लिए 6 से लेकर 10 हजार रुपए तक का डीमांड किया जाता है. सबसे दिलचस्प बात तो यह है कि इन ठगों के पास आपकी पूरी जानकारी भी है. ठगों का कहना है जिते हुए ईनाम लेने के लिए आपको कहीं जाना नहीं पड़ेगा बल्कि कंपनी खुद आपके घर तक ईनाम पहुंचायेगी. हमलोग के पास आपका पूरा एड्रेस है. लेकिन पहले आपको नामांकन शुल्क जमा करना होगा.

इसे भी पढ़ें : बेहाल है राजकीयकृत प्लस टू विद्यालयों का हाल, बगैर उर्दू शिक्षक के पढ़ रहे हैं दो सौ विद्यार्थी

hosp3

केस नंबर एक

रातू रोड के रहने वाले अक्षय कुमार झा ने स्नैपडील से रेबन का चश्मा आर्डर किया था. चश्मा डिलीवरी भी हो गई. लेकिन इसके दुसरे दिन अक्षय के पास 7462089228 नं. से मैसेज आया जिसमें कहा गया कि बधाई हो आपने 12 लाख 60 हजार रुपए की कीमत वाली टाटा सफारी जीती है. इसके बाद उक्त नं. पर फोन करने पर बताया कि प्राइज पाने के लिए आपको कंपनी के एकांउट में 6,500 रुपए जमा करने होंगे.

इसे भी पढ़ें : झारखंड के 86 लाख आदिवासियों में 43 लाख गरीबी रेखा के नीचे

केस नंबर दो

वहीं एक अन्य व्यक्ति के पास ऐसा ही फोन कॉल 9651911241 नं. से आया था. इसमे कहा गया कि आप विनर प्राइज प्राप्त करने के लिए कलीम अली के A/C No 34309450629 , IFSC sbin0013378 पर रजिस्ट्रेशन शुल्क जमा करें इसके बाद इनाम आपके घर तक पहुंचा दिया जायेगा.

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

You might also like
%d bloggers like this: