Lead NewsNational

कैप्टन अमरिंदर ने राहुल-प्रियंका को बताया था ‘अनुभवहीन’, कांग्रेस ने दिया ये जवाब

कहा, सलाहकारों ने उन्हें पूरी तरह से गलत बात बताई है और वे उन्हें गुमराह कर रहे हैं

New Delhi : पंजाब कांग्रेस में गुटबाजी और आंतरिक कलह की वजह से हाल ही में कैप्टन अमरिंदर सिंह ने राज्य के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद बुधवार को उन्होंने एक बयान में राहुल गांधी और प्रियंका गांधी वाड्रा को ‘अनुभवहीन’ बताया था. अब कांग्रेस ने भी पलटवार करते हुए उनसे उनके बयान पर पुनर्विचार करने के लिए कहा है.

इसे भी पढ़ें : दूध पीने की जिद करने पर मां ने ढाई साल के बेटे को जमीन पर पटका, बच्चे की मौत

क्या कहा सुप्रिया श्रेनेत ने

कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रेनेत, ‘बुजुर्ग कई बार गुस्सा हो जाते हैं मगर इस तरह की बात उनके कद पर अच्छी नहीं लगती. राजनीति में ऐसे बदले की बात करना, द्वेष की कोई जगह नहीं. हम उनसे छोटे होने के नाते उनसे उम्मीद करते हैं कि वो अपने बयान पर पुनर्विचार करेंगे.’

Sanjeevani

अमरिंदर सिंह ने कहा था कि प्रियंका गांधी और राहुल गांधी मेरे बच्चे जैसे हैं. कोई चीज ऐसे नहीं खत्म होनी चाहिए. मैं दुखी हूं. राहुल और प्रियंका अनुभवी नहीं हैं, उनके सलाहकारों ने उन्हें पूरी तरह से गलत बात बताई है और वे उन्हें गुमराह कर रहे हैं.

नवजोत सिंह सिद्धू को हराने के लिए पूरी कोशिश करूंगा

कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ये भी कहा है कि वह राज्य के पार्टी अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू को विधानसभा चुनाव में हराने की हर मुमकिन कोशिश करेंगे. देश को ऐसे खतरनाक आदमी से बचाने के लिए वह कोई भी बलिदान देने के लिए तैयार हैं.

इसे भी पढ़ें : आदिवासी भुमिज-मुंडा महाल ने पूर्व सांसद शैलेंद्र महतो के खिलाफ खोला मोर्चा

मैंने तीन हफ्ते पहले खुद की थी इस्तीफे की पेशकश

अमरिंदर सिंह ने खुलासा किया था कि उन्होंने तीन हफ्ते पहले सोनिया गांधी को इस्तीफे की पेशकश की थी, लेकिन उन्होंने उन्हें पद पर बने रहने के लिए कहा था. कैप्टन ने कहा, अगर उन्होंने मुझे फोन किया होता और मुझे पद छोड़ने के लिए कहा होता, तो मैं तुरंत इस्तीफा दे देता. एक सैनिक के रूप में, मुझे पता है कि मुझे अपना काम कैसे करना है और एक बार वापस बुलाए जाने पर कैसे लौट जाना है.

इसे भी पढ़ें : 25 सितंबर से सिमडेगा में झारखंड सीनियर महिला हॉकी टीम का विशेष प्रशिक्षण शिविर

Related Articles

Back to top button