Ranchi

क्रिसमस के रंग में रंगी राजधानी, कैरोल, प्रार्थनाओं से गूंजा शहर, लोगों में दिखा उत्साह

Ranchi : क्रिसमस का उत्साह राजधानी में मंगलवार को देखा गया. राजधानी के गिरजाघरों में अलग-अलग समय में सुबह से ही मिस्सा आयोजित की गयी. संत मारिया महागिरजाघर में सुबह 6.30 बजे से मिस्सा शुरू  हुई. तीन पालियों में आयोजित मिस्सा 8.30 बजे और 9.30 बजे की गयी. इसकी अगुवाई कर रहे बिशप ने कहा कि प्रभु यीशु का जन्म संसार के उद्धार के लिए हुआ था. ईश्वर प्रेम का प्रतीक है और इसमें सबको विश्वास करना चाहिए, तभी अनंत जीवन की प्राप्ति होती है. इस दौरान बिशप ने खुशहाली की कामना की.

संसार में आने का उद्देश्य समझें

जीईएल गिरजाघर में सुबह 6.30 बजे से प्रार्थना शुरू हुई. संध्या प्रार्थना पांच बजे की गयी, जिसकी अगुवाई  बिशप जॉनसन लकड़ा ने की. उन्होंने इस दौरान कहा कि जन्म पर्व सिर्फ खुशियां मनाने का नहीं, बल्कि इसके उद्देश्य को समझने की जरूरत है. प्रभु यीशु का जन्म संसार के उद्धार के लिए हुआ. इसी तरह हर इंसान के जन्म का कोई न कोई अर्थ होता है, जिसके लिए मनुष्य का जन्म होता है. हर इंसान को अपने जन्म का अर्थ समझना चाहिए. उन्होंने संपूर्ण मानव जाति की खुशहाली की कामना की.

सद्भावना का त्योहार है

छोटानागपुर डायसिस सीएनआई चर्च में प्रार्थना की अगुवाई बिशप बीबी बास्के ने की. इस दौरान उन्होंने कहा कि क्रिसमस सिर्फ ईसाइयों का त्योहार नहीं, बल्कि यह संपूर्ण विश्व की मानव जाति के प्रेम व सद्भावना का त्योहार है. क्रिसमस के दिन चर्च सभी के लिए खुलते हैं और सबकी खुशहाली के लिए सामूहिक कामना की जाती है. यही क्रिसमस का संदेश है. उन्होंने कहा कि प्रभु यीशु ने मानवता की सेवा को सबसे बड़ी सेवा बताया है.

advt

दिन भर गूंजे क्रिसमस कैरोल

सोमवार की रात्रि 12 बजे से लेकर मंगलवार को दिन भर गिरजाघरों में क्रिसमस कैरोल गूंजे. प्रार्थना के साथ-साथ लोगों ने आस्था के साथ क्रिसमस गीत गाये और एक-दूसरे को बधाई दी. गली-मुहल्लों में भी क्रिसमस का उत्साह देखा गया. हर तरफ क्रिसमस गीत ही बज रहे थे. लोगों ने उपहार देकर भी एक-दूसरे को बधाई दी.

इसे भी पढ़ें- NW Breaking: IFS अफसरों की शाही पार्टी! पांच घंटे का कार्यक्रम और खाने का खर्च 34.31 लाख

इसे भी पढ़ें- 2019: नये साल में मस्ती के लिए तैयार हैं रांची के पिकनिक स्पॉट

adv
advt
Advertisement

Related Articles

Back to top button