World

अमेरिकी सीमा पर दीवार बनाने के लिए ट्रंप घोषित कर सकते हैं राष्ट्रीय आपातकाल

Washington : अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप मेक्सिको के साथ जुड़ी अमेरिकी सीमा पर दीवार बनाने के अपने चुनावी वादे को पूरा करने वाले हैं. इसके लिए राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा करने वाले शासकीय आदेश पर ट्रंप हस्ताक्षर कर सकते हैं.

Jharkhand Rai

राष्ट्रपति ट्रंप के अनुसार, देश की सुरक्षा, मेक्सिको से आने वाले अवैध आव्रजकों और मादक पदार्थों की तस्करी रोकने के लिए यह दीवार बहुत महत्वपूर्ण है. यदि ट्रंप आपातकाल की घोषणा कर देते हैं तो वह दीवार बनाने के लिए आवश्यक 5.6 अरब अमेरिकी डॉलर की राशि प्राप्त कर सकते हैं.

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव ने दिया बयान

व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव सारा सैंडर्स ने एक बयान में कहा कि  ट्रंप सरकारी कामकाज पर खर्च से संबंधित विधेयक पर हस्ताक्षर करेंगे. जैसा कि उन्होंने कहा है कि  वह अन्य शासकीय कार्रवाई करेंगे. जिसमें आपातकाल की घोषणा भी शामिल है. इसके जरिए हम सुनिश्चित करेंगे कि सीमा पर राष्ट्रीय सुरक्षा को खतरा न पहुंचे और मानवीय संकट उत्पन्न ना हो. सैंडर्स ने कहा कि राष्ट्रपति दीवार बनाने, सीमा की सुरक्षा करने और हमारे देश को सुरक्षित बनाने के अपने वादे को पूरा करने के लिये आगे बढ़ रहे हैं.

आपातकाल की घोषणा कानूनहीनता की स्थिति होगी

गौरतलब है कि सीनेट में बहुमत के नेता मिश मैककोनेल द्वारा इस आशय की सार्वजनिक घोषणा किए जाने के कुछ ही देर बाद व्हाइट हाउस ने बयान दिया है. मैककोनेल ने कहा था कि मुझे राष्ट्रपति ट्रंप से बातचीत करने का अवसर मिला और मैं अपने सभी सहकर्मियों को बता दूं कि वह विधेयक पर हस्ताक्षर करने को तैयार हैं. वह साथ ही राष्ट्रीय आपातकाल की घोषणा भी करने वाले हैं. मैंने संकेत दिया है कि मैं राष्ट्रीय आपातकाल का समर्थन करूंगा.

Samford

डेमोक्रेट्स द्वारा इस कदम को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दिए जाने को लेकर सवाल करने पर सैंडर्स ने कहा कि हम पूरी तरह तैयार हैं. लेकिन कोई (कानूनी) चुनौती नहीं होनी चाहिए. राष्ट्रपति अपना काम कर रहे हैं. कांग्रेस को अपना काम करना चाहिए. सीनेट में अल्पमत के नेता चक स्कमर और स्पीकर नैन्सी पेलोसी ने कहा कि आपातकाल की घोषणा कानूनहीनता की स्थिति होगी. यह राष्ट्रपति के अधिकारों का दुरुपयोग होगा. संयुक्त रूप से जारी एक बयान में दोनों ने कहा कि यह फिर से राष्ट्रपति ट्रंप द्वारा कानून के उल्लंघन को दिखाता है.

इसे भी पढ़ें – पुलवामा आतंकी हमले की विश्व भर में निंदा, अमेरिका ने पाकिस्तान को चेताया, पाक ने सफाई पेश की

इसे भी पढ़ें – पुलवामा टेरर अटैक : सरकार ने टीवी चैनलों को आगाह किया,  संयम बरतें, ऐसी कवरेज न करें,  जिससे हिंसा…

Advertisement

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: