JharkhandRanchi

सफाई के लिए चला अभियान, लेकिन नहीं हुई मॉनिटरिंग : मेयर

Ranchi : मानसून की बारिश शुरू होते ही राजधानी की स्थिति नारकीय हो गयी है. हल्की बारिश में ही कई इलाकों में लोग जलजमाव से परेशान हो रहे हैं. डोर-टू-डोर कूड़ा उठाव भी सभी वार्डों में नियमित रूप से नहीं हो रहा है. शनिवार को ये बातें मेयर डॉ आशा लकड़ा ने कहीं. उन्होंने कहा कि रांची की मेयर होने के नाते जब मैं रांची नगर निगम की सफाई से संतुष्ट नहीं हूं तो आम जनता कैसे संतुष्ट होगी.

सफाई तो होकर रहेगी नगर आयुक्त का यह अभियान कितना कारगर हुआ, इसका जवाब तो वे खुद ही बेहतर दे सकते हैं. सिर्फ बड़ी-बड़ी बातें करने से किसी कार्य या अभियान को पूरा नहीं किया जा सकता.

इसके लिए न सिर्फ अच्छी प्लानिंग की जरूरत होती है, बल्कि उसकी प्रापर मॉनिटरिंग भी करनी पड़ती है. उन्होंने कहा कि नगर आयुक्त ने सिर्फ अपनी वाहवाही के लिए सफाई तो होकर रहेगी अभियान की शुरुआत की.

इसे भी पढ़ें :शुरू हुआ वीकेंड लॉकडाउन, खुली रहेंगी दूध व दवा की दुकानें

advt

चार दिन के अंदर करें सफाई की समीक्षा

नगर निगम में 2015 से ही बारिश से पूर्व हर वर्ष रोस्टर के तहत सफाई अभियान चलाया जाता रहा है. यदि नगर आयुक्त पूर्व की कार्य पद्धति को ध्यान में रखते हुए अभियान शुरू करते तो राजधानी न सिर्फ स्वच्छ होती, बल्कि बारिश के बाद जलजमाव की समस्या भी नहीं होती.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand News : नगर निकायों में कचरा उठाव के लिए खरीदें जायेंगे वाहन

मेयर ने यह भी कहा कि 53 वार्डों में जलजमाव वाले क्षेत्र की सूची भी रांची नगर निगम के कार्यालय में मौजूद है. इसके अलावा शहर के किस-किस क्षेत्र में कूड़े की डंपिंग होती है इसकी जानकारी भी सफाईकर्मियों को है.

फिर भी नियमित रूप से सफाई कार्य नहीं हो पा रहा है. अधिकारी एजेंसी के कार्यों की मॉनिटरिंग नहीं कर रहे हैं. फिलहाल वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण के संभावित खतरे को देखते हुए शहर की सफाई व्यवस्था की विशेष मॉनिटरिंग करने की जरूरत है.

नगर आयुक्त को पत्र के माध्यम से निर्देश देते हुए लिखा है कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए तीन-चार दिनों के अंदर संबंधित अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर डोर-टू-डोर कूड़ा उठाव व जलजमाव की समस्या का समाधान करें.

इसे भी पढ़ें : नियुक्ति वर्ष का हाल (2) : पेच सरकार का, दांव पर युवाओं का भविष्य

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: