JamshedpurJharkhand

केबुल टाउन फायरिंग : बिजनेस के लिए 50 हजार देने से इंकार करने पर जान लेने पर उतारू हुआ दोस्त

पहले पिस्तौल के बट से मारा, फिर 4 गोलियां चलायीं, घायल युवक को अस्पताल से मिली छुट्टी, पुलिस को दोस्त की तलाश

Jamshedpur : गोलमुरी थाना अंतर्गत केबुल कॉलोनी स्थित क्लब हाउस के समीप फायरिंग की घटना दोस्तों के बीच बैठकी में विवाद के बाद घटी. इस मामले अब तक जो बाद उभरकर सामने आयी है, उसके मुताबिक नामदा बस्ती के रहनेवाले कुणाल सिंह ने पार्टनरशिप में बिजनेस करने के लिए दोस्त गोलू पाठक उर्फ रोहित पाठक से पचास हजार रुपये मांगे थे. इससे इंकार करने पर कुणाल उससे नाराज था. बुधवार को इस बात को लेकर दोनों के बीच विवाद हो गया. इस पर कुणाल ने पिस्तौल निकाली और बट से सिर में मार कर गोलू को घायल कर दिया. फिर जब गोलू उर्फ रोहित भागने लगा, तो कुणाल ने उस पर गोली चला दी. संयोग से गोली रोहित के सिर को छूती हुई निकल गई. घटना के बाद उनके अन्य दोस्त भी मौजूद थे. सभी फायरिंग के बाद फरार हो गये. इस बीच सूचना मिलने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने रोहित को इलाज के लिए एमजीएम अस्पताल पहुंचाया. वहां इलाज के बाद उसे अस्पताल से छुट्टी दे दी गयी.

बाइक पर बैठाकर लाया था कुणाल

रोहित ने बताया कि घटना से पहले वह नाश्ता करने टिनप्लेट चौक गया था. वहां उसे कुणाल मिल गया, उसने रोहित को बाइक पर बैठाया और उसे क्लब हाउस के पास लेकर आया. वहां कंपनी में गाड़ी लगाने का बिजनेस करने की बात कहते हुए कुणाल ने रोहित से 50 हजार रुपये मांगे. इस पर रोहित ने जब इंकार किया तो उस पर फायरिंग की गयी. बता दें कि रोहित भी नामदा बस्ती का ही रहनेवाले हैं. उसके मुताबिक घटना स्थल पर कुल चार राउंड फायरिंग की गई है. फिलहाल पुलिस आरोपी कुणाल की तलाश में जुटी है.

ram janam hospital
Catalyst IAS

नशेबाजी और अड्डेबाजी भी घटना का कारण

The Royal’s
Sanjeevani

इधर स्थानीय लोग इस पूरी घटना को नशेबाजी और अड्डेबाजी से जोड़कर देख रहे हैं. उनका कहना है कि केबुल कॉलोनी क्लब हाउस के पास आए दिन ऐसे तत्वों का जमावड़ा लगा रहता है. वहां आपस में विवाद और शोर-शराबा कोई नयी बात नहीं है. इस बीच फायरिंग की घटना घटने से लोग सकते में जरूर हैं. पुलिस से ऐसे तत्वों पर कार्रवाई की मांग की गयी है.

इसे भी पढ़ें – Jamshedpur Mandir Theft: भगवान को भी बख्श रहे चोर, बागबेड़ा के मंदिर से चांदी के मुकुट की चोरी

Related Articles

Back to top button