न्यूज़ विंग
कल का इंतज़ार क्यों, आज की खबर अभी पढ़ें

अब पर्यटन स्थलों पर होगी कैबिनेट की बैठक, अगली बैठक मसानजोर में

25
  • रविवार को पहली बार पार्क में बैठी रघुवर कैबिनेट, दो कैबिनेट मंत्री नीरा यादव और नीलकंठ नहीं पहुंचे
  • पिछले साल जनवरी से लेकर इस साल जनवरी तक रघुवर सरकार ने 446 एजेंडों को दी मंजूरी

Ranchi : राज्य सरकार ने प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए अब पर्यटन स्थलों पर कैबिनेट की बैठक करने पर सहमति जतायी है. इसी कड़ी में रविवार को राजधानी के लालखटंगा स्थित बायोडायवर्सिटी पार्क में  कैबिनेट की बैठक हुई. बैठक के बाद पर्यटन मंत्री अमर कुमार बाउरी और मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी ने बताया कि अब प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए पर्यटन स्थलों पर कैबिनेट की बैठक होगी. अगली कैबिनेट की बैठक मसानजोर में करने की बात कही. इससे पहले नेतरहाट में कैबिनेट की बैठक हो चुकी है. रविवार को हुई बैठक में दो कैबिनेट मंत्री नीलकंठ सिंह मुंडा और नीरा यादव शामिल नहीं हुए. रविवार को बायोडायवर्सिटी पार्क में हुई कैबिनेट की बैठक का पूरा जिम्मा वन विभाग ने संभाला था. वन विभाग के आला अधिकारी इस दौरान पूरी तरह से मुस्तैद रहे.

पिछली जनवरी से लेकर इस साल जनवरी तक 446 एजेंडों को मिली स्वीकृति

पिछले साल जनवरी से लेकर इस साल की जनवरी तक हुई कैबिनेट की बैठक में कुल 446 एजेंडों को मंजूरी दी गयी. इस दौरान कैबिनेट की 34 बैठकें हुईं. इसमें 24 जनवरी 2018 को हुई कैबिनेट की बैठक में सबसे अधिक 29 फैसले लिये गये.

पिछले साल से अब तक हुई बैठकों में कितने फैसले लिये गये

कैबिनेट की बैठककितने एजेंडों को मंजूरी
09-1-201813
24-1-201829
15-02-201825
20-02-201813
06-03-201817
13-03-201817
21-03-201811
26-03-201816
10-04-201815
18-04-201811
24-04-201804
03-05-201806
08-05-201813
15-05-201811
29- 05-201817
05-06-201811
12-06-201808
26-06-201821
03-07-201807
10-07-201817
17-07-201808
24-07-201807
31-07-201805
07-08-201813
21-08-201809
24-08-201826
11-09-201805
03-10-201811
12-10-201808
30-10-201811
20-11-201815
27-11-201809
11-12-201809
27-12-201809
एक जनवरी 201909

इसे  भी पढ़ें- पत्थलगड़ी की आग में जल रहा है मुंडा अंचल, 29 प्रथामिकी में 15000 से अधिक मुंडाओं पर देशद्रोह का आरोप

इसे भी पढ़ें- पलामू: पारा शिक्षकों ने फिर रोकी भाजपा की पदयात्रा, दिखाये काले झंडे-सरकार विरोधी नारे भी लगाये

हमें सपोर्ट करें, ताकि हम करते रहें स्वतंत्र और जनपक्षधर पत्रकारिता...

Comments are closed.

%d bloggers like this: