National

 #CAAProtest : राहुल गांधी ने ट्वीट कर युवाओं से राजघाट पहुंचने का आग्रह किया, धरना आज

NewDelhi : कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने  सोमवार सुबह ट्वीट कर युवाओं से दोपहर तीन बजे राजघाट पहुंचने का आग्रह किया है. राहुल ने अपने ट्वीट में लिखा, प्रिय छात्रों और युवाओं इस नफरत के दौर में हमें  दिखाना होगा कि आप इस देश को नष्ट नहीं होने देंगे. मोदी और शाह द्वारा भारत में छेड़ी गयी नफरत और हिंसा के विरोध में दोपहर तीन बजे राजघाट पर मेरे साथ जुड़ें.

जान लें कि कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ सोमवार को राजघाट पर धरना देने का फैसला किया है. पार्टी सूत्रों ने बताया कि छात्रों के आंदोलन के समर्थन और संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ यह धरना दिया जायेगा

इसे भी पढ़ें :  #CAA : योगी सरकार का दावा,  हिंसा में बाहरी तत्‍वों का हाथ, पीएफआई और सिमी से जुड़े छह लोग गिरफ्तार

प्रधानमंत्री  मोदी व अमित शाह देश के लोगों को बांट रहे हैं

नागरिकता संशोधन कानून (CAA) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (NRC) के विरोध में देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं.    CAA और  NRC के खिलाफ प्रदर्शनों की पृष्ठभूमि में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने रविवार को आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री  मोदी एवं गृह मंत्री अमित शाह देश के लोगों को बांट रहे हैं. कहा कि अपनी नाकामियों को छिपाने के लिए नफरत का सहारा ले रहे हैं.

उन्होंने ट्वीट कर कहा, भारत के प्रिय युवाओं, मोदी और शाह ने आपके भविष्य को बर्बाद कर दिया है. वो नौकरियों की कमी और अर्थव्यवस्था की स्थिति को लेकर आपके गुस्से का सामना नहीं कर सकते. यही वजह है कि हमारे प्यारे भारत को बांट रहे हैं और नफरत का सहारा ले रहे हैं.

इसे भी पढ़ें :  #CAA: विपक्ष के भ्रम और झूठ का जवाब देने को भाजपा का 10 दिनों का विशेष अभियान, हर जिले में रैली-सभा, 3 करोड़ परिवारों से संपर्क करेगी

भारत के छात्र भारत का भविष्य हैं 

राहुल गांधी ने कहा, हम हर भारतीय के प्रति स्नेह दिखाकर इनको पराजित कर सकते हैं. छात्रों को संबोधित एक अन्य ट्वीट में उन्होंने कहा, भारत के प्रिय छात्रों, कोई भी भारतीय छात्र मोदी-शाह को इस तरह से देश को बांटने नहीं दे जैसे वो बांट रहे हैं.  भारत के छात्रों, आप भारत के भविष्य हो और भारत आपका भविष्य हैं. आइए साथ खड़े हों और उनकी नफरत के खिलाफ लड़ें.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित रैली को संबोधित किया था. पीएम मोदी ने पहली बार नागरिकता कानून पर मचे बवाल पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा, 100 साल पुरानी पार्टी के नेता उपदेश दे रहे हैं लेकिन शांति के लिए एक भी शब्द बोलने को तैयार नहीं हैं.  हिंसा पर आपकी मौन सहमति है यह देश देख रहा है. पुलिस को अगर परेशान करेंगे तो हमारी परेशानी बढ़ेगी.

इसे भी पढ़ें : #Bangladesh ने CAA और NRC को भारत का आंतरिक मामला बताया, पर चिंता भी जाहिर की

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: